ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। दाेपहर 12 बजे के बाद आसमान से मानाे आग बरस रही थी। घर की देहरी लांघते ही गर्म हवा के थपेड़े गाल पर चांटे के समान पड़ रहे थे। धूप में किसी के लिए भी चंद मिनट खड़े रहना मुश्किल हाे रहा था। दाेपहर ढाई बजे तापमान 45.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। छत पर रखी पानी की टंकियां भी तप गई थीं, जिसके कारण नलाें से भी गर्म पानी आ रहा था।

बंगाल की खाड़ी में आया असानी तूफान आंध्र प्रदेश में कम दबाव के रूप में सक्रिय है। यह कम दबाव का क्षेत्र पश्चिमी हवा को अपनी ओर खींच रहा है, जिससे चलते राजस्थान की गर्म हवा मजबूत हुई हैं। गत दिवस इस हवा की गति बढ़ गई थी। जिससे अधिकतम तापमान 46.2 डिसे रिकार्ड हु था। इस कारण शनिवार को सुबह से ही सूरज की तल्खी बढ़ी हुई थी। जैसे-जैसे दिन गुजरा वैसे-वैसे तापमान में बढ़ोतरी हो गई। दोपहर में समान से ग बरसने लगी। दाेपहर ढाई बजे सड़काें पर गिनती के ही वाहन दिखाई दे रहे थे।

बिजली ने किया बेहाल, लोगों को कराया रतजगाः शहर में अधिकतम तापमान बढ़ने से बिजली ने भी लोगों को बेहाल कर दिया। बिजली की खपत बढ़ने से ट्रिपिंग व फाल्ट बढ़ गए। ट्रांसफार्मर भी फेल हुए, जिससे लोगों की परेशानी बढ़ गई। पावर ट्रांसफार्मर हीट होने की वजह से बिजली बंद कर रहे थे। पिछले दिनों की तुलना में शिकायतें अधिक रही। फ्यूज आफ काल्स पर भी देर से फोन लग सके। रात में लोग रतजगा कर रहे हैं।

16 से मिलेगी राहतः

-मौसम विभाग के अनुसार 14 व 15 मई को राजस्थान की गर्म हवा और मजबूत होंगी। इस कारण दो दिनों तक अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के ऊपर दर्ज होगा। गर्मी से राहत नहीं रहेगी।

- 16 मई को जम्मू कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा। इसके सक्रिय होने के बाद हवा का रुख उत्तर पश्चिमी होगा, जिससे 16 से 19 मई तक अधिकतम तापमान में गिरावट आने से राहत रहेगी।

वर्जन-

16 मई को पश्चिमी विक्षोभ आ रहा है। इसके सक्रिय होने पर ही अधिकतम तापमान में गिरावट आएगी। 19 मई तक राहत रहेगी। 20 मई से अधिकतम तापमान में फिर से बढ़ोतरी शुरू हो जाएगी। 20 से 26 मई के बीच गर्मी का आखिरी दौर आएगा। उससे बाद तापमान में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं हो सकेगी।

वेदप्रकाश सिंह, वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक व रेडार प्रभारी मौसम केंद्र भोपाल

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local