ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। उत्तर मध्य रेलवे ने रक्षाबंधन व 15 अगस्त पर स्टेशनों की सुरक्षा दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। जवानों को चौबीस घंटे चौकस रहने के निर्देश दिए गए हैं। ग्वालियर में भी शासकीय रेल पुलिस (जीआरपी) और रेल सुरक्षा बल (आरपीएफ) अलर्ट मोड पर आ गई है। स्टेशन व ट्रेनों में रोजाना चेकिंग के आदेश जहां भोपाल मुख्यालय से आए है। वहीं आरपीएफ कमांडेंट ने सुरक्षा कर्मियों को रोज चैकिंग के निर्देश दिए हैं। साथ ही नाइट में पेट्रोलिंग टीम, संरक्षा विभाग एवं आरपीएफ को गश्त करने की हिदायत भी जारी की गई है। 15 अगस्त को देखते हुए प्लेटफार्म पर भी चौकसी बढ़ा दी गई है। प्लेटफार्म पर पहुंचने वाले यात्रियों की वीडियोग्राफी के साथ ही सीसीटीवी से भी निगरानी की जा रही है। आरपीएफ एवं जीआरपी के जवानों की शिफ्टों में ड्यूटी लगाई गई है। बीते दिनों दो ट्रेनों में बम की सूचना मिली थी, जिसकी वजह से ग्वालियर संवेदनशील स्टेशन में भी शामिल है। इस कारण अलर्ट भी जारी किया गया है। बीते रोज एक साथ दो ट्रेनों में र आने-जाने वालों पर सीसीटीवी कैमरों से नजर रखी जा रही है साथ ही झांसी मंडल व रेंज अतंर्गत आने वाले सभी छोटे-बड़े स्टेशनों में सुरक्षा व्यवस्था करने निर्देश हैं। इसके पहले झांसी में आरपीएफ अधिकारियों ने बैठक भी की है। बैठक में स्टेशन से लेकर ट्रेन तक डॉग व बॉम स्क्वॉड द्वारा पार्सल, यात्री सामान व संदिग्धों की जांच करने कहा गया। दिल्ली व मुंबई से आने वाली ट्रेनों में प्रमुखता से जांच करने और उसकी रिपोर्ट भेजने कहा गया है। दरअसल इन स्थानों से ट्रेनों में सबसे ज्यादा संदिग्ध व्यक्ति और संदिग्ध सामान होने का अंदेशा रहता है। जिसके लिए एडवाइजरी भी जारी की गई है। इसके साथ ही प्लेटफॉर्म में प्रवेश करने वाले यात्रियों की जांच अनिवार्य रूप से करने निर्देश दिए गए।

यह व्यवस्था की

-रेलवे स्टेशन के चारों प्लेटफार्म पर आरपीएफ एवं जीआरपी की शिफ्टों में ड्यूटी लगाई गई है। सीसीटीवी से प्लेटफार्म पर नजर रखी जा रही है। साथ ही यात्रियों की वीडियोग्राफी भी कराई जा रही है।

-ट्रेनों में लूट-पाट और चोरी की घटनाएं बढऩे के बाद जीआरपी और आरपीएफ स्टाफ ने संयुक्त गश्त शुरू कर दी है। सेक्शन में बढ़ती वारदात पर लगाम लगाने के लिए आरपीएफ में बल बढ़ा दिया गया है, जो 24 घंटे प्लेटफार्म पर गश्त कर रहा है।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close