When the country gave us a voice: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। काेराेना महामारी इस समय लाेगाें के लिए सबसे बड़ी परेशानी की वजह बना हुआ है। एेसे में लाेगाें काे विभिन्न प्रकार की जरूरत एवं मदद की आवश्यकता भी हाेती है, लेकिन काेराेना के कारण मदद मिलने में अक्सर देरी हाे रही है। एेसे में प्रिंस मझवार ने अपनाें दाेस्ताें के साथ मिलकर जरूरतमंदाें की मदद करना प्रारंभ किया है।

काेराेना की दूसरी लहर में तेजी से लाेग संक्रमण का शिकार हुए। हालत यह थी कि लाेगाें काे अस्पतालाें में बेड मिलना मुश्किल हाे रहा था। आक्सीमीटर आैर अाक्सीजन की कमी के कारण मरीज के परिजन खासे परेशान थे। जब प्रिंस मझवार ने यह देखा ताे उन्हें लाेगाें की मदद का ख्याल आया। इस विषय पर जब उन्हाेंने अपने दाेस्ताें से चर्चा की ताे वह भी तैयार हाे गए। इसके बाद उन्हाेंने लाेगाें की मदद करने का निर्णय लिया। प्रिंस मझवार के पास जैसे ही जरूरतमंद व्यक्ति का फाेन आता है ताे वह उन्हें हर संभव सहायता उपलब्ध कराने का प्रयास करते हैं। वह लाेगाें काे अाक्सीमीटर पहुंचा रहे हैं। साथ ही अगर किसी काे आक्सीजन की जरूरत है ताे वह उसे अपना वाहन उपलब्ध कराते हैं। जिसमें रखकर वह आक्सीजन का सिलिंडर लेकर आ सके। वहीं कई लाेगाें काे गंभीर मरीजाें के लिए प्लाज्मा की भी जरूरत पड़ रही है। एेसे में प्रिंस मझवार अपने दाेस्ताें के साथ मिलकर लाेगाें काे प्लाज्मा उपलब्ध कराने का भी प्रयास करते हैं। इसके लिए वह उन लाेगाें से संपर्क करते हैं, जिन्हाेंने काेराेना से जंग जीती है।

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags