ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। सिंगल यूज प्लास्टिक पर 1 जुलाई से पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया जाना है। आज से सिंगल यूज प्लास्टिक की बिक्री करने वाले सभी दुकानदार, थोक उत्पादक, एवं विक्रेताओंं के पास पहुंचकर प्रदूषण विभाग द्वारा उन्हें समझाया जाएगा कि वह इसकी बिक्री बंद कर दें। इसके साथ ही सिंगल यूज प्लास्टिक का उत्पादन करने वाली फैक्ट्री को भी बंद कराया जाएगा। इससे पहले शनिवार से मध्यप्रदेश प्रदूषण नियत्रंण बोर्ड ऐसे स्थानों पर सुबह 11 बजे से जागरूकता कार्यक्रम चलाएगा जहां पर इन सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग ज्यादा किया जा रहा है। वहीं सोमवार से नगर निगम एवं जिला प्रशासन को सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी है। इस कार्रवाई के लिए मध्यप्रदेश प्रदूषण नियत्रंण बोर्ड ने नगरीय निकायों को पत्र लिखा है।

केंद्र सरकार के निर्देशानुसार देशभर में 1 जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग बंद होना है। इन सिंगल यूज प्लास्टिक में 10 प्रकार के वस्तुओं की श्रेणी को चिन्हित किया गया है। मध्यप्रदेश प्रदूषण नियत्रंण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी एचएल मालवीय ने बताया कि शनिवार से प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी होटल, रेस्टोरेंट, कटलरी विक्रेताओं के पास पहुंचकर वहां पर जागरूकता अभियान चलाएंगे। इसके साथ ही सोमवार से नगर निगम के अधिकारी दुकानों, होटल, रेस्टोरेंटों , ठेलेवालों आदि स्थानों पर पहुंचकर सिंगल यूज प्लास्टिक को जब्त करेंगे। इसके लिए प्रदेश सरकार ने भी निर्देश जारी किए हैं।

सिंगल यूज प्लास्टिक में आएंगी यह वस्तुएं

सिंगल यूज प्लास्टिक में प्लास्टिक स्टिक, ईयर बड्स , गुब्बारों , झण्डों के उपयोग में आने वाली प्लास्टिक की डंडी, प्लास्टिक के झंडे, कैण्डी स्टिक, आइस्क्रीम की डंडियां, थर्माेकाल की सजावटी वस्तु, प्लास्टिक प्लेट, कप, गिलास, काटे, चम्मच, चाकू, स्ट्रा, ट्रे, आदि कटलरी, मिठाई के डिब्बाें के आसपास लपेटे जाने वाली प्लास्टिक , निमंत्रण कार्ड, सिगरेट पैकेट आदि, 100 माइक्रोन से कम मोटाई वाले प्लास्टिक व पीवीसी बैनर आदि प्रतिबंधित किए गए हैं।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close