हरदा। शहर की सड़कों पर घूमते बेसहारा मवेशी वाहन चालकों व राहगीरों के लिए समस्या बन गए हैं। यह समस्या इंदौड रोड, कचहरी चौक, कलेक्टोरेट मार्ग व रेलवे स्टेशन रोड पर दिखाई देती है। सबसे अधिक समस्या मुख्य रोड व कचहरी चौक के पास है। इसके साथ ही शहर के खंडवा बायपास रोड पर मवेशी रोड पर बैठे रहते हैं। सुबह से लेकर रात तक बेसहारा पशु सड़कों पर खड़े रहते हैं। इन्हें सड़क से भगाने की कोशिश में ही दुर्घटनाएं घट जाती हैं। इसके अलावा इंदौर रोड पर मवेशियों के कारण लोग सीधा से ड्राइव ही नहीं कर सकते। नगर के चौक-चौराहों व गलियों में बेसहारा पशुओं का डेरा कभी न खत्म होने वाली समस्या बन गई है। यातायात थाना पुलिस द्वारा सड़क पर बैठने वाले मवेशियों के सिंग और गले में रेडियम की पट्टी लगाई गई है। इधर ग्रामीण क्षेत्रों में खरीफ सीजन की फसल को देखते हुए किसान भी फसल की सुरक्षा के लिए गांव के बेसहारा मवेशियों को शहर की ओर भगा देते हैं। इससे शहर की सड़कों पर गौवंश का जमावड़ा लगा रहता है। इससे सड़का हादसों की आशंका बनी रहती है। इधर गौशाला भी ज्यादा स्थान नहीं होने के कारण इन्हें रखने में परेशानी का सामना करना पड़ता है।

इधर आवारा कुत्तों की भी समस्या

शहर में आवारा कुत्तों की समस्या के कारण भी लोगों को परेशान होना पड़ता है। रात के समय में बाइक के पीछे कुत्ते दौड़ते हैं। इससे कई बार मोटरसाइकिल सवार हादसे का शिकार हो रहे हैं। आवारा कुत्तों के चलते शहर में कई बार हादसे हो चुके हैं। लेकिन जिम्मेदारों द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है। वार्ड-18 के महेंद्र काशिव ने बताया कि शहर में कुत्तों के वाहनों के पीछे दौड़ने से परेशानी होती है। ऐसे में नगर पालिका द्वारा कुत्तों की नलबंदी के लिए अभियान चलाना चाहिए।

नपा ने अब तक शुरू नहीं किया अभियान

नगर पालिका परिषद द्वारा अब तक बेसहारा मवेशियों को पकड़कर कांजी हाउस तक छोड़ने का अभियान शुरू नहीं किया गया है। जबकि शहर के मानपुरा स्थित कांजी हाउस में ही कई दिनों से हादसों में घायल गायों का इलाज किया जा रहा है। वहीं कांजी हाउस में भी बाढ की आशंका को देखते हुए गौवंश कम संख्या में रखने की बात सामने आ रही है।

उचित कार्रवाई की जाएगी

सड़क पर बैठने वाले बे-सहारा मवेशियों को पकड़ने की कार्रवाई की जाएगी। कांजी हाउस में गोवंश में रखने की समस्या है। यहां पर जगह बनते ही कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए जाएंगे। बेसहारा मवेशियों को पकड़कर कांजी हाउस और गौशालाओं में छोड़ा जाएगा। ताकि यातायात प्रभावित न हो।

ज्ञानेंद्र यादव, सीएमओ, नगर पालिका परिषद हरदा

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close