फोटो 4 हरदा। नेहरू स्टेडियम के पास स्थित खनिज दुकानें।

कैचवर्डः विभाग के अधिकारियों का संरक्षण, बिना रॉयल्टी के गिट्टी, रेत का व्यापार

हरदा। नवदुनिया प्रतिनिधि

जिले में रेत के अवैध कारोबार पर किसी तरीके से लगाम लगती नजर नहीं आ रही। स्थिति यह है, कि सरकारी खजाने को हर माह लाखों का चूना लगाने वाले इस अवैध धंधे को सरकारी मशीनरी ने अपनी कमाई का जरूर धंधा बना लिया है और सरकारी हित ताक पर रख दिए गए हैं। अक्टूबर महीने में खनिज अधिकारियों को आरटीआई के दस्तावेज के साथ एक शिकायत की थी। जिसमें शहर में चल रहे अवैध रेत के व्यापारी पर कार्रवाई करने की मांग की थी, लेकिन इस बात को करीब तीन महीने बीत गए है।ं इस संबंध में गुरुवार को खनिज अधिकारी ओपी बघेल से चर्चा की तो उन्होंने बताया कि व्यस्तता के कारण कार्रवाई नहीं की गई है। जबकि सूत्रों का मानें तो शहर में रेत का व्यापार करने वाले व्यापारियों द्वारा अधिकारियों के साथ साठगांठ कर ली गई है। जिसके चलते यह कार्रवाई नहीं हो रही है। शिकायतकर्ता धीरज वर्मा ने बताया कि खनिज महकमा तो पूरी तरह से अवैध कारोबार को संरक्षण दिए हुए हैं। हालात यह है कि जब कभी दबाव बनता है तो थोड़ी बहुत खानापूर्ति कर दी जाती है।

यह थी शिकायतः सोमानी बिल्डिंग मटेरियर द्वारा रन्हाई पंचायत में रेत और गिट्टी की सप्लाई की थी। जिसकी आरटीआई से जानकारी निकालने के बाद कलेक्टर के माध्यम से खनिज विभाग को शिकायत की गई। लेकिन खनिज अधिकारियों ने मामले को दबाने के लिए कार्रवाई नहीं की। जिसके कारण शहर में बड़े पैमाने पर रेत का अवैध कारोबार हो रहा है।

यह है रेत के अवैध कारोबार का सिस्टमः रेत कारोबार से जुड़े लोगों की मानें तो रेत का अवैध कारोबार खनिज और पुलिस के संरक्षण में चल रहा है। खनिज विभाग का अपना सिस्टम तय है। इनके द्वारा प्रति निर्धारित राशि ली जाती है। इसका बकायदे खाता बही मेंटेन किया जाता है। अगर कभी कोई वाहन पकड़ लिया जाता है तो उसे यह बस बताना पड़ता है, कि ये वाहन सिस्टम में है। फिर पकड़ने वाला संबंधित से क्लियर कर लेता है और मामला निपट जाता है। दूसरी ओर पुलिस का भी यही सिस्टम है। लेकिन यहां दो तरीके की इंट्री ली जाती है।

इनका कहना है

अवैध रूप से रेत का व्यापार करने वाले सोमानी बिल्डिंग मटेरियर्स की शिकायत अक्टूबर में मिली थी। भुआणा उत्सव से कल फुर्सत हुए हैं। अब देखते हैं क्या कार्रवाई करना है।

ओपी बघेल, खनिज अधिकारी हरदा

-----------------

फोटो 5 हरदा। कार्यक्रम में प्रस्तुति देते हुए।

फोटो 6 हरदा। कार्यक्रम नीचे बैठे कलेक्टर एसडीएम।

हेडिंगः शौर्या दल ने दी कार्यक्रम में प्रस्तुति, कलेक्टर ने नीचे बैठकर देखा कार्यक्रम

हरदा। नवदुनिया प्रतिनिधि

गुरुवार को भुआणा उत्सव में रेवा सखी (शौर्या दल) का जिला स्तरीय सेमिनार का आयोजन किया गया। सेमिनार में डॉ.प्रियंका गोयल अपर कलेक्टर सहित अन्य प्रशासनिक अमला मौजूद रहा। भुआणा उत्सव में ग्राम जिला पर चयनित 2 रेवा सखी का जिला स्तरीय सेमिनार आयोजित किया गया।कार्यक्रम के दौरान कलेक्टर एस विश्वनाथन, एसडीएम सहित अन्य प्रशासनिक अमला दरी पर बैठकर कार्यक्रम देखता हुआ नजर आया।

सेमिनार के दौरान चयनित रेवा सखी को रेवा सखी के मोनो से छपी टी- शर्ट, बैज आई-कार्ड, बुकलेट एवं योजनाओं के प्रचार-प्रसार सामग्री उपलब्ध कराया गई, ताकि इनकी ग्राम/वार्ड स्तर पर एक विशेष पहचान हो सके। डॉ. गोयल द्वारा रेवा सखी गठन के बारे में सक्षिप्त जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि रेवा सखी नाम मां नर्मदा के नाम पर दिया है। उन्होंने कहा, कि रेवा मां नर्मदा का दूसरा नाम है। सेमिनार में माय किड्स अकादमी स्कूल हरदा की ओर से स्थानीय भाषा में नाटिका के माध्यम से उपस्थित रेवा सखी को प्रशिक्षण प्रदाय किया गया। रेवा सखी को आत्म रक्षा के गुण भी सिखाएं, सेमिनार में पहुंची रेवा सखियों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति भी दी गई।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan