- कोरोना के संक्रमण के चलते सरकार ने निजी स्कूलों को एक वर्ष की दी छूट।

हरदा। नवदुनिया प्रतिनिधि

जुलाई से शुरू हो रहे नए शिक्षण सत्र के लिए निजी स्कूलों को मान्यता नवीनीकरण नहीं कराना होगा। बिना नवीनीकरण कराए ही निजी स्कूल बच्चों को एडमिशन दे सकेंगे। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते सरकार व स्कूल शिक्षा विभाग ने प्राइमरी व मिडिल निजी स्कूलों को मान्यता नवीनीकरण से एक वर्ष की छूट प्रदान की है। अब स्कूलों की मान्यता 31 मार्च 2021 तक मान्य रहेगी। इसके बाद निजी स्कूलों को मान्यता नवीनीकरण करानी होगी। वायरस के संक्रमण और लॉकडाउन की वजह से पहले ही काफी समय निकल चुका है। अब यदि नवीनीकरण की प्रक्रिया आयोजित की जाती। तो शिक्षा का अधिकार अधिनियम (आरटीई) के तहत होने वाली निश्शुल्क प्रवेश प्रभावित होती है। इसलिए स्कूल शिक्षा विभाग ने प्राथमिक व माध्यमिक विद्यालयों को एक वर्ष की छूट प्रदान करते हुए अगले वर्ष तक के लिए मान्यता की अवधि को बढ;ा दिया है। ऐसे में जिन निजी स्कूलों की मान्यता 31 मार्च को समाप्त हो गई है। उन्हें अब नवीनीकरण कारने की जरूरत नहीं है।

स्कूल शिक्षा विभाग के उप-संचालक केके द्विवेदी ने आदेश में कहा है कि मान्यता में तो एक वर्ष की निजी स्कूलों को छूट प्रदान की गई है। लेकिन ऐसे सभी निजी स्कूलों को निश्शुल्क व अनिर्वाय बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम में दिए गए विद्यालय संचालन के सभी मापदंडों व शर्तों का पालन करना जरूरी होगा। हालांकि उक्त निजी स्कूल 20 जनवरी से 10 फरवरी तक पहले ही मान्यता नवीनीकरण के लिए आवेदन कर चुके है। लेकिन अब शेष प्रक्रिया को स्थगित कर मान्यता एक वर्ष तक यथावत रखी गई है। आदेश में उप-संचालक ने कहा है कि शिक्षण सत्र 2020-21 के लिए नवीन मान्यता के लिए जिन शैक्षणिक संस्थाओं ने आरटीई पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन किया है। उनका निराकरण प्रक्रिया अनुसार ही किया जाएगा। छूट सिर्फ मान्यता नवीनीकरण के लिए प्रदान की गई है नवीन मान्यता प्राप्त करने वाले स्कूलों के लिए नहीं। नवीन मान्यता के आवेदनों के निपटारे के लिए अलग से समय-सारणी जारी की जाएगी।

डीएलएड के लिए आवेदन 10 जून तक

माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा सत्र 2019-20 की प्रारंभिक शिक्षा में पत्रोपाधि पाठ्यक्रम (डीएलएड) नियमित प्रथम व द्वितीय वर्ष की परीक्षा के लिए 25 मई से एमपी ऑनलाइन के माध्यम से आवेदन जमा किए जाएंगे। पोर्टल या कियोस्क के माध्यम से आवेदन 10 जून तक भरे जाएंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना