लीड खबर

- मूंग की फसल लेने के लिए किसान कर रहे तैयारी, नहर से पानी छूटने का इंतजार

फोटो नंबर छह रहेगा

हरदा। नवदुनिया प्रतिनिधि

जिले में रबी सीजन की बोवनी की तैयारी शुरू कर दी गई है। इस वर्ष जिले में गेहूं का रकबा कम होने एवं चने का रकबा बढ़ने का अनुमान लगाया जा रहा है। ग्रीष्मकालीन मूंग की फसल के लिए किसान कम समयावधि वाली फसल की बोवनी की तैयारी कर रहे हैं। इसके साथ ही कृषि विभाग ने भी किसानों को अनुदान पर दिए जाने वाले बीज की उपलब्धता के लिए तैयारी कर ली है। इसके साथ ही जिले में यूरिया एवं डीएपी खाद पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होने का दावा किया जा रहा है। कृषि विभाग के अनुसार जिले में 1 लाख 91 हजार हेक्टेयर रकबे में रबी सीजन की बुलाई का लक्ष्य रखा गया है। इसमें 1 लाख 43 हजार हेक्टेयर में गेहूं की बोवनी एवं 45 हजार हेक्टेयर रकबे में चना फसल की बोवनी और 3 हजार हेक्टेयर रकबे में मक्का की बोवनी का लक्ष्य रखा गया है। बता दें कि तवा परियोजना मंडल होशंगाबाद के अधीक्षण यंत्री एसके सक्सेना रविवार को जिले की नहरों का निरीक्षण करने पहुंचे। जहां उन्होंने लाइनिंग की जा रही नहरों का निरीक्षण किया।

नहरों में अब नहीं छोड़ा गया पानी

जिले की नहरों में तवा डैम से अब तक पानी नहीं छोड़ा गया, जबकि 12 अक्टूबर को जिला पंचायत में हुई जल उपयोगिता समिति की बैठक में 15 अक्टूबर से नहरों में पानी छोड़ने का प्रस्ताव भेजा था, लेकिन संभागीय जल उपयोगिता समिति की बैठक नहीं होने के कारण उक्त प्रस्ताव पर अब तक चर्चा तक नहीं की गई है। जिले के किसान नहरों में पानी छोड़ने का इंतजार कर रहे हैं। सूत्रों अनुसार 23 अक्टूबर से 26 अक्टूबर के बीज तवा डैम से पानी छोड़ने की उम्मीद जताई जा रही है।

पिछले साल की बोवनी का रकबा

फसल का नाम- वर्ष 2019-20 - वर्ष 2020-21 लक्ष्य

0 गेहूं - 1.62 लाख हेक्टेयर- 1.43 लाख हेक्टेयर

0 चना- 025 हजार हेक्टयर - 045 हजार हेक्टेयर

0 मक्का- 03 हजार हेक्टेयर- 03 हजार हेक्टेयर

(आंकड़े कृषि विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार)

यह है जिले में बीज की पूर्ति

बीज- वर्ष 2018-19 वर्ष 2019-20- वर्ष 2020-21

0 गेहूं- 36600- 49950- 56777

0 चना- 30243-18000-20500

0 मटर- 50-25-50

0 मसूर-80-30-73

0 सरसों-35-10-20

0 मक्का- 100-400-1000

(बीज के आंकड़े क्विंटल में)

वर्ष- रबी सिंचाई का लक्ष्य- कुल क्षेत्र में हुई सिंचाई

2015-16- 100845-101114

2016-17-101887-102921

2017-18-102121-104999

2018-19-104868-104868

2019-20-105029-105029

(जिले में रबी सिंचाई हेक्टेयर में)

तवा डैम में 101 फीसद पानी

जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री राकेश दीक्षित ने बताया कि फिलहाल तवा डैम में 101 फीसद पानी है। तवा डैम की जलभराव क्षमता 1944 मिलियन क्यूसेक मीटर है, जबकि तवा डैम में 1967 मिलियन क्यूसेक मीटर जलभराव हुआ है। उन्होंने बताया कि तवा डैम में पर्याप्त पानी है। जिले के किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी मिलेगा।

वर्जन

जिले के किसानों के लिए पर्याप्त मात्रा में खाद-बीज उपलब्ध है। किसानों के लिए 52 हजार 800 क्विंटल गेहूं के बीज के लक्ष्य के विरुद्ध 56 हजार 777 क्विंटल गेहूं का बीज उपलब्ध है। वहीं 19 हजार क्विंटल चना के बीज के लक्ष्य के विरुद्ध 20 हजार 500 क्विंटल चना का बीज उपलब्ध है। ऐसे ही 1000 क्विंटल मक्का का बीज है। वहीं पर्याप्त मात्रा में खाद उपलब्ध है।

-एमपीएस चंद्रावत, उप संचालक, कृषि विभाग हरदा

--------------------

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020