बाटम खबरः सुबह के वक्त हल्की सी ठंड और फिर पूरे दिन तेज धूप होने से लोगों का बुरा हाल

फोटो 1 हरदा। गर्मी के कारण सड़कों पर सन्नााटा।

हरदा। नवदुनिया प्रतिनिधि

अक्टूबर में जहां लोगों के गर्म कपड़े निकलने शुरू हो जाते थे। वहीं इस बार लोग कूलर व एसी का प्रयोग कर गर्मी और उमस से निजात पाने की कोशिश में लगे हैं। बड़े बुजुर्गों का कहना है कि इतना गर्म अक्टूबर उन्होंने पिछले दस सालों में भी नहीं देखा। गर्मी और उमस का आलम यह है कि रविवार को पारा 34 डिग्री के पार हो गया। उमस के कारण लोगों का हाल बेहाल है। पर्यावरणविद् इसके लिए पर्यावरण असंतुलन को जिम्मेदार मान रहे हैं। सुबह के वक्त हल्की सी ठंड और फिर पूरे दिन तेज धूप होने से लोगों का बुरा हाल है। दोपहर जब अधिकतम तापमान 34 डिग्री पार कर गया तो गर्म हवाओं के थपेड़ों ने भी लोगों का बुरा हाल कर दिया। हर किसी के जुबान से बस यही निकल रहा है कि इतनी गर्मी अक्टूबर महीने में तो पहले कभी नहीं पड़ी। मौसम की तल्खी से बीमारियां भी बढ़ रही है, वहीं फसलों पर भी बुरा असर पड़ने की आशंका है।

तेज धूप से लोग परेशानः अक्टूबर माह में मौसम बदलने का अनुमान तमाम लोगों को था क्योंकि सितंबर माह में उमस और गर्मी की मार झेलने के बाद लोग अक्टूबर से यही उम्मीद लगाए हुए थे। तापमान में बदलाव होता तो वायरल बुखार से भी राहत मिलने की आस थी, लेकिन अक्टूबर माह के हालात अभी भी सितंबर महीने जैसे हैं। जिसमें कोई बदलाव नहीं आया है। तेज धूप से ज्यादा उमस ने लोगों को परेशान किया हुआ है। सुबह 9 बजे से तेज धूप लोगों को घरों में दुबकने के लिए मजबूर कर देती है। रात के वक्त ही यदि हवा चली तो लोगों को गर्मी से कुछ राहत महसूस होती है, वर्ना चादर ओढकर सोने वाले वक्त में भी कूलर चलाने पड़ रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020