फोटो 3 रहटगांव। मुर्गी घाटी मंदिर में पूजन करते हुए विद्वान।

सादिक खान। रहटगांव

क्षेत्र में नवरात्र का त्योहार आस्था और धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है। इसके चलते नवरात्र के पावन पर्व पर देव स्थलों का और भी महत्व बढ़ जाता है। भक्त अपनी मनोकामनाओं को लेकर देव स्थलों में पहुंचते हैं। जिसमें वनांचल की मुर्गी घाटी मंदिर भी शामिल है। यहां मां विंध्यवासिनी का काफी पुराना मंदिर है। जहां पर क्षेत्रभर के भक्तों के अलावा अन्य जिलों के भक्त भी यहां आकर अपनी मनोकामना को लेकर मन्नाते मांगते हैं। रहटगांव तहसील से महज 15 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत बोथी के अंतर्गत आने वाले गांव आंबा के पास यह मंदिर विगत 45 वर्ष पहले जमीन के नीचे खुदाई के दौरान मिला था। यहां सैकड़ों वर्ष पूर्व प्राचीन मूर्ति निकली थी। जिसकी स्थापना रहटगांव के पुजारी शिवगुरु सोनी द्वारा कराई गई। मुर्गी घाटी पर प्राचीन देवी का मंदिर है। जहां नवरात्र में विशेष आयोजन होते हैं। मंदिर के पुजारी सोनी को सन 1975 में सपने में मां विजया देवी ने दर्शन देकर कहा कि मैं उस स्थान पर ठहरी हूं। उस स्थान पर जाओ और मुझे निकालो। सुबह सोनी वहां पहुंचे और खुदाई की गई तो वहां से देवी की मूर्ति को निकाला गया। 16 अप्रैल 1978 को यहां पर प्रथम बार नवरात्र का आयोजन किया गया। यहां पर अभी तक तीन बार भागवत पुराण का आयोजन एवं सन 1998 में विशाल यज्ञ का आयोजन भी किया जा चुका है। जिसमें लगभग 25 से 30 हजार श्रद्घालुओं ने यज्ञ का लाभ लिया था। वहीं जानकारी के मुताबिक शिवगुरु सोनी का देहांत विगत दिनों हो गया है। अब उनकी जगह पर उनके बड़े पुत्र विजय कुमार सोनी मां विंध्यवासिनी तंत्र शक्ति पीठ मुर्गी घाटी में मां भगवती की सेवा कर रहे हैं। यहां पर मां विंध्यवासिनी देवी मुर्गी पर विराजमान हैं, इसलिए यह मंदिर मुर्गी घाटी के नाम से प्रसिद्ध है। यहां पर मां विंध्यवासिनी के मंदिर के अलावा दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर, लक्ष्मी जी, काली जी ,भैरव बाबा, दाजी बाबा ,दाना बाबा, क्षेत्रपाल बाबा के मंदिर भी स्थित है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020