-कई बार हुई कवायद, मांग भी उठाई गई, नगर की सुरक्षा पर नहीं दिया जा रहा ध्यान

खिरकिया। नवदुनिया न्यूज

नगर में दिन दहाड़े वारदातों को अंजाम दिया जा रहा है। ऐसी वारदातों को अंजाम देने वाले अपराधियों पर नजर रखने के लिए पुलिस की तीसरी आंख कहे जाने वाले सीसीटीवी कैमरे नगर में कहीं भी मौजूद नहीं है। नगर परिषद द्वारा पूर्व में सीसीटीवी कैमरे लगाने के प्रस्ताव भी लाए गए, लेकिन इसके आगे प्रक्रिया नहीं बढ़ सकी। नगर के चौक चौराहे, प्रमुख बाजार क्षेत्र अतिव्यस्तम क्षेत्र, मुख्य मार्ग पर निगरानी रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे की जरूरत तो हैं, लेकिन अभी तक नगर मे सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाए जा सके है। सीसीटीवी कैमरों के नहीं होने से अपराधिक घटनाओं और वारदातों को बल मिलता है। जिससे नागरिकों को असुरक्षा की स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। खिरकिया सहित छीपाबड़ के डेढ़ से दो दर्जन स्थान ऐसे है, जहां सीसीटीवी कैमरों को आवश्यकता है। पूर्व मे भी कई बार सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने की मांग उठी, लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया।

पहले यहां लगाए थे कैमरे

पूर्व में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने की व्यवस्था एक दो जगह बनाई गई थी, लेकिन वह सफल नहीं हो सकी। एक दो माह के बाद ही बंद हो गयी। पुलिस द्वारा नगर के व्यापारियों के सहयोग से कुछ स्थानों पर कैमरे लगाए गए थे, वहीं दुकानों के बाहर कैमरे लगाने की पहल भी की गई थी, लेकिन यह पहल सफल नहीं हो सकी। इसके तहत मुख्य चौराहों पर कैमरा लगाए गए थे, जो कुछ दिनों बाद बंद हो गए।

दिन में हो चुकी हैं कई वारदात

नगर में पूर्व मे कई बार दिनदहाड़े ही वारदातों को अंजाम दिया जा चुका है। जिनके आरोपियों के संबंध में कोई सुराग नहीं लग पाया है। विगत वर्ष जनवरी माह में मुख्य मार्ग से आरोपियों द्वारा चेन लूट ले गए, वहीं छीपाबड़ में दिन दहाड़े दंपती को घर में कैद कर चोरी की घटना को अंजाम दिया गया था, इसके बाद व्यवसायी के घर से दिन मे ही सोना चमकाने के नाम पर चेन उङा ले गए है। मामले में अभी तक आरोपियो की कोई निशानदेही नहीं हो सकी।

यहां कैमरे लगाने की जरूᆬरत

नगर के मुख्य चौराहे, गांधीचौक, बस स्टैंड, मुख्य मार्ग, खिरकिया किल्लोद मार्ग, मंडी गेट, पुरानी गल्ला मंडी चौराहा, स्टेट बैंक के समीप, छीपाबड़ थाना चौराहा, महाराणा प्रताप चौराहा, गांधी मंच छीपाबड़ सहित अनेक व्यस्तम क्षेत्रों में कैमरे लगाए जाने की जरुरत है। पूर्व मे टोल टैक्स नाके पर सीसीटीवी कैमरे होने से नगर मे आने वाले एवं बाहर जाने वाले वाहनो पर निगरानी होती थी, लेकिन टोल टैक्स अनुबंध समाप्त होने पर वहां से भी सीसीटीवी कैमरे हटा लिए गए हैं।

वर्जन

शहर के भीतर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के लिए पूर्व में प्रस्ताव लिए गए थे। फिलहाल यह व्यवस्था नहीं बनाई जा सकी है। इसको लेकर प्रक्रिया की जा रही है।

-एआर सांवरे, सीएमओ, नपं खिरकिया

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस