हरदा। नवदुनिया प्रतिनिधि

जिला अस्पताल में अधिकारियों, डॉक्टरों एवं व्यवस्था में संलग्न कर्मचारियों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर संजय गुप्ता ने जिले में कोरोना के संक्रमण को रोकने के उपायों पर डॉक्टरों एवं कोरोना की व्यवस्था में लगे अधिकारियों एवं कर्मचारियों से चर्चा की। बैठक में जिला अस्पताल एवं सभी स्वास्थ्य केंद्रों में बिजली व्यवस्था को दुरस्त करने के निर्देश दिए हैं, ताकि किसी भी प्रकार के शॉर्ट सर्किट या बिजली की वजह से अन्य किसी भी प्रकार की घटना घटित न हो। सभी स्वास्थ्य संस्थाओं में सोलर पैनल लगाने के लिए वरिष्ठ कार्यालय को एस्टीमेट तैयार कर भेजने के निर्देश दिए। साथ ही सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर आगजनी की घटनाओं को रोकने के लिए इलेक्ट्रिक ऑडिट कराने के निर्देश भी दिए गए। जिला अस्पताल हरदा एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रो में अधूरे पङे निर्माण कार्यों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए पीडब्ल्यूडी के इंजीनियर को निर्देर्शित किया कि स्वास्थ्य संस्थाओं में चल रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण का जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करें। ताकि एनएचएम में कार्यरत सब इंजीनियर दिनेश सूर्यवंशी को शोकाज नोटिस जारी कर उनके विरूध वरिष्ठ कार्यालय को लिखा जा सके। बैठक में एडीएम जेपी सैयाम, जिला पंचायत सीइओ रामकुमार शर्मा, एसडीएम श्यामेंद्र जायसवाल, सीएमएचओ डॉ किशोर कुमार नागवंशी, सिविल सर्जन डॉ शिरीष रघुवंशी सहित बिजली विभाग एवं नगरपालिका के कर्मचारी-अधिकारी उपस्थित रहे।

खुले बिजली वायर देखकर हुए नाराज

कलेक्टर गुप्ता ने जिला अस्पताल की व्यवस्थाओं का भी जायजा लिया। इस दौरान जिला अस्पताल में खुले बिजली वायरों को देखकर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने पीडब्ल्यूडी की इंजीनियर को 7 दिन में बिजलीकरण कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। साथ ही सोशल ऑडिट कराने के निर्देश भी दिए। इसके साथ ही इंजीनियर को कार्य समय-सीमा में कार्य पूर्ण कराने के निर्देश भी दिए।

हंडिया बीएमओ को हटाएं

कलेक्टर गुप्ता ने हंडिया खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. जेके चौरे को तत्काल हटाने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. किशोर कुमार नागवंशी को दिए। किसी अन्य चिकित्सक को हंडिया का खंड चिकिकत्सा अधिकारी बनाने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने एसडीएम को हंडिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के औचक निरीक्षण के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि जो भी चिकित्सक कोविड-19 में लगातार अच्छा कार्य कर रहे हैं, उन्हें किसी भी अन्य जगह पर पदस्थ न करने के निर्देश दिए।

जनप्रतिनिधि भी गांवों में करेंगे जागरूक

ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, पंचायत सचिव, आशा कार्यकर्ता एवं स्व सहायता समूह की महिलाएं द्वारा जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। वे मास्क लगाने एवं शारीरिक दूरी पालन करने के लिए समझाइश देंगे। शहरी क्षेत्र में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, आशा, पार्षद, नगर पालिका के कर्मचारियों की समिति बनाकर लोगों को जागरूक करेंगे। जन अभियान परिषद को जागरूकता लाने का कार्य दिया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस