खिरकिया। नवदुनिया न्यूज

विकासखंड परियोजना प्रबंधन समिति की मासिक समीक्षा बैठक गुरुवार को बीआरसी कार्यालय के सभा कक्ष में हुई। बैठक में ब्लॉक के जनशिक्षा केंद्र के जनशिक्षक, बीएसी, एमआरसी उपस्थित हुए। बैठक की समीक्षा बीआरसी जीआर चौरसिया द्वारा दिए गए ऐजेंडा अनुसार सभी बिंदुओं पर की गई। उन्होंने सभी जनशिक्षकों के कामकाज की समीक्षा की और सभी बिंदुओं को समय-सीमा में पूर्ण कराने हेतु कहा। विशेष कर हमारा घर हमारा विद्यालय डीजिलेप ग्रुप की मॉनिटरिंग, पाठ्य पुस्तक वितरण, गणवेश वितरण में आ रही समस्या, मेपिंग कार्य, कक्षा पहली एवं छटवी का लक्ष्‌य एवं प्रवेश, मध्यान्ह भोजन, खाद्यान वितरण, कोविड-19 टीकाकरण आदि शामिल है। उन्होंने कहा कि सुकन्या समृद्धि योजना के खाते खोलने के लिए सभी शालाओं में दर्ज कक्षा 1 से 5 तक की सभी छात्राओं के खाते खुलवाकर शासकीय योजना का 6 वर्ष से 10 वर्ष तक की बालिकाओं को लाभ मिले। कोई भी बालिका इस योजना से वंचित ना रहे। यह कार्य की सभी सीएसी प्रतिदिन जानकारी लेकर अधिक से अधिक तथा सभी 100 प्रतिशत बालिकाओं के खाते खुलवाना सुनिश्चित करें। शेष रही बालिकाओं के खाते खोलने के लिए रणनीति बनाकर इस योजना के कार्य को पूर्ण करें। शाला में प्रवेश के लिए लक्षित बच्चों का शत् प्रतिशत नामांकन, शाला त्यागी बच्चों का पुनः शाला में प्रवेश कराने एवं असाक्षरों को चिन्हांकन के लिए गृह संपर्क अभियान, एमशिक्षा एप पर लॉगिन होकर शिक्षा पोर्टल पर जाकर शाला प्रवेश गृह संपर्क अभियान में सर्वे से शेष रहे सभी बच्चों का शत प्रतिशत सर्वे का कार्य पूर्ण कर शाला में प्रवेश दिलाएं। जिन शालाओं में पूर्व वर्ष की तुलना में इस वर्ष 2021-22 में नामांकन अधिक होगा वहां के शिक्षकों को 15 अगस्त को ब्लाक अनुसार प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान लेकर वहां के स्कूल को एवं संबंधित शिक्षक को सम्मानित किया जाएगा। उन्हें पुरस्कार वितरण कर प्रमाण पत्र दिया जाएगा।

सभी से चर्चा करते हुए जीआर चौरसिया ने कहा कि ब्लाक में जितने भी दिव्यांग बच्चे हैं, शिक्षक उनके घर घर जाकर जानकारी एकत्रित कर उन्हें शाला में प्रवेश दिलाएं, ताकि सभी दिव्यांग बच्चे शिक्षा की मुख्य धारा से जुड़ सके। एवं कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित नहीं रहे। विकासखंड की सभी प्राथमिक एवं माध्यमिक शाला समग्र शिक्षा के शाला प्रबंधन समिति के शून्य बैंलेंस खाते अति शीघ्र खुलवाना सुनिश्चित करें। बैठक में प्रौढ शिक्षा पर्यवेक्षक उमाकांत वर्मा, बीएसी अजय सैलाब, सुनील सोंधिया, जयनारायण कलम, अंरबिद रावत, एमआरसी महेश्वरी राठौर एवं जनशिक्षा केंद्र के सभी जनशिक्षक उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local