हरदा। नवदुनिया प्रतिनिधि। Madhya Pradesh News जिला योजना समिति की बैठक में शामिल होने के लिए जिले के प्रभारी मंत्री पीसी शर्मा सोमवार को आपा खो बैठे। उन्होंने अपनी पार्टी के पदाधिकारी को ऊंची आवाज में अपनी समस्या रखने पर डांटकर भगा दिया। मंत्री शर्मा ने कांग्रेस नेता को जेल में बंद करने तक की धमकी दे दी।

इसके बाद कांग्रेस नेता को कलेक्ट्रेट परिसर से बाहर कर दिया गया। लेकिन बाद में कांग्रेस नेता ने प्रभारी मंत्री से माफी मांगी और शालीनता के साथ अपनी समस्या रखी। जिस पर प्रभारी मंत्री शर्मा ने उचित कार्रवाई करने के लिए कलेक्टर को निर्देश दिए। सोमवार को करीब साढ़े 3 बजे जिले के प्रभारी मंत्री पीसी शर्मा कलेक्ट्रेट पहुंचे। जहां वे लोगों की समस्याओं के आवेदन ले रहे थे। इस दौरान किसान कांग्रेस के प्रदेश सचिव शैलेंद्र वर्मा अपने मकान खाली कराने को लेकर दी जाने वाली धमकी के बारे में मंत्री शर्मा को अपनी समस्या बता रहे थे।

कांग्रेस नेता वर्मा द्वारा ऊंची आवाज में बोलने पर मंत्री नाराज हो गए। उन्हें बाहर उठाकर ले जाने के लिए कहने लगे। इस पर कांग्रेस नेता वर्मा ने कहा कि जिन बीजेपी के नेताओं को मुख्यमंत्री मिठाई खिला रहे हैं, वे ही कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का डरा-धमका रहे हैं। लेकिन सरकार होने के बाद भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं की समस्या नहीं सुनी जा रही।

माफी मांगी, फिर सुनी समस्या: हंगामे के दौरान कांग्रेस नेता वर्मा ने पीसी शर्मा मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। साथ ही स्थानीय कांग्रेस नेताओं पर चापलूसी करने का आरोप भी लगाया। हंगामे के बाद किसान कांग्रेस के प्रदेश सचिव शैलेंद्र वर्मा ने प्रभारी मंत्री शर्मा से माफी मांग ली। इसके बाद कांग्रेस नेता वर्मा ने अपनी समस्या रखी। इस पर मंत्री शर्मा ने समस्या पर कार्रवाई करने के निर्देश कलेक्टर एवं एसपी को दिए। इसके बाद मामला शांत हुआ।

विधायकों ने किया बैठक का बहिष्कार

भाजपा विधायक कमल पटेल, संजय शाह व सांसद प्रतिनिधि अमर सिंह मीणा ने जिला योजना समिति का बहिष्कार किया। उन्होंने कलेक्टर को हटाने की मांग की। भाजपा जिलाध्यक्ष मीणा ने कहा कि प्रशासन कांग्रेस सरकार के दबाव में कार्य कर रहा है। कलेक्टर ने दबाव में चुने हुए जनपद उपाध्यक्ष सुदीप पटेल को जिलाबदर किया। इस कार्रवाई को पूर्व में हाईकोर्ट शून्य किया था। मीणा ने कहा कि कांग्रेस के इशारे पर भाजपा कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया जा रहा है। राजगढ़ में नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे लोगों को घसीटा गया।

Posted By: Hemant Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना