होशंगाबाद/सीहोर/ उज्‍जैन। पितृमोक्ष अमावस्या पर शनिवार को होशंगाबाद में नर्मदा के सेठानी घाट और सीहोर के आंवलीघाट पर स्नान के लिए भारी भीड़ रहेगी। दोनों जगह प्रशासन ने सुरक्षा सहित अन्य इंतजाम किए हैं।

होशंगाबाद जिला प्रशासन के अनुसार करीब 2 लाख लोगों के आने की संभावना है। शहर के एकता चौक, मोरछली व सतरस्ता के पास पार्किंग रहेगी। वहां से सेठानी घाट तक पैदल जाना होगा।

घाटों पर करीब 300 पुलिस जवानों के साथ होमगार्ड, गोताखोर और स्वयंसेवी संस्थाओं के लोग भी तैनात रहेंगे। आईजी आशुतोष राय के मुताबिक सुरक्षा एजेंसियों से मिले इनपुट के आधार पर पूरा अमला अलर्ट है। घाटों और शहर सहित रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड पर भी पुलिस बल तैनात है।

सीहोर के आंवलीघाट पर आज मेला लगेगा। प्रशासन का अनुमान है कि मेले में एक लाख से अधिक लोग आएंगे। सुरक्षा व्यवस्था में 500 से अधिक पुलिस और होमगार्ड जवान तैनात किए हैं। सीहोर एडीएम विनोद चतुर्वेदी के मुताबिक पूर्व के हादसों से सबक लेकर श्रद्धालुओं के स्नान के लिए टोंटियां (नल) लगाई है। घाट पर जालियां लगाकर एक दायरा तय किया है।

श्रद्धालु वैकल्पिक व्यवस्था फव्वारे आदि से स्नान कर सकेंगे

उज्जैन के कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी शशांक मिश्र ने उज्जैन शहर में हो रही भारी वर्षा के मद्देनजर शनिश्चरी अमावस्या के अवसर पर त्रिवेणी घाट, रामघाट, सिद्धवट आदि अन्य घाटों पर श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगा दी है।

श्रद्धालुओं से आग्रह किया गया है कि वे अपनी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए प्रशासन द्वारा स्नान के लिये की गई वैकल्पिक व्यवस्था जिनमें फव्वारा आदि शामिल हैं, पर स्नान कर स्वयं को सुरक्षित रखते हुए अपने-अपने गन्तव्य की ओर लौटें। कलेक्टर ने इस सम्बन्ध में सभी सुरक्षा बलों को आवश्यक निर्देश जारी कर दिये हैं।