नर्मदापुरम(होशंगाबाद) नवदुनिया प्रतिनिधि

गृह विज्ञान महाविद्यालय युवा शक्ति, कोरोना मुक्ति अभियान के अंतर्गत प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। प्राचार्य डॉ कामिनी जैन बताया कि टीकाकरण को लेकर अनेक भ्रांतियां युवाओं के साथ सभी आयु वर्ग के लोगों में देखी जा रही जिससे टीकाकरण अभियान पर प्रभाव पड रहा है। इस प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थी वर्ग का प्रेरक के रूप में उपयोग कर टीकाकरण एवं कोविड अनुकूल व्यवहार के प्रति जनजागरूकता फैलाना है। यह कार्य तीन चरणों में किया जायेगा। इस हेतु अग्रणी महाविद्यालय के प्राचार्य जिला टीकाकरण अधिकारी तकनीकी शिक्षा प्राचार्य का प्रशिक्षण 12 जून को हो चुका है। द्वितीय चरण में मंगलवार को जिले के समस्त शासकीय,अशासकीय महाविद्यालयों के प्राध्यापकों का प्रशिक्षण हुआ। तृतीय चरण में 19 जून से 31 जुलाई तक विद्यार्थियों का प्रशिक्षण महाविद्यालयों में किया जाएगा। उन्होंने सभी मास्टर ट्रेनर्स का वाट्सएप ग्रुप बनाने हेतु निर्देशित किया जिससे कि प्रभावी मानीटरिंग की जा सके। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ नलिनी गौर ने कहा कि कोरोना का कोई इलाज नहीं है अभी इसकी दूसरी लहर चल रही है भविष्य में और भी लहर आ सकती हैं केवल वैक्सीन ही एकमात्र उपचार है। जनवरी 2021 से वैक्सीनेशन कार्य शुरू हुआ हैं। पहले चरण में फ्रंट लाइन वर्कर्स, दूसरे चरण में 60 प्लस़, तीसरे चरण में 45 प्लस़, चौथे चरणमें 18 प्लस आयु वर्ग लोगो को वैक्सीन लगाई जा रही है। सप्ताह में सोमवार, बुधवार, गुरुवार, एवं शनिवार 4 दिन वैक्सीनेशन कार्य चल रहा है। जिला स्तर पर ऑनलाइन एवं अन्य केंद्रों पर ऑन स्पॉट रजिस्ट्रेशन की सुविधा दी जा रही है।

पॉलिटेक्निक कॉलेज के प्राचार्य डॉ आरआर चंद्राकर ने कहा वैक्सीनेशन ही एक मात्र उपचार है बाकी सब सहायक दवाइयां हैं। डॉ. रागिनी सिकरवार विभाग विभागाध्यक्ष वनस्पति -शास्त्र ने बताया कि 18 जून को मुख्यमंत्री के द्वारा कोविड संदेश ऐप लांच किया जा रहा है। जिसमें प्रशिक्षण लेने वाले विद्यार्थियों का डेटाबेस कलेक्ट किया जाएगा एवं प्रतिदिन अध्यापकों द्वारा दिए जा रहे प्रशिक्षण की जानकारी इस ऐप के माध्यम से संग्रहित की जाएगी। प्रतिदिन 50- 50 छात्र- छात्राओं का बैच बनाकर कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए प्रशिक्षण दिया जाएगा। साथ ही उन्होंने वैक्सीन के निर्माण परिवहन संग्रहण की प्रक्रिया एवं वैक्सीनेशन को लेकर के जनसामान्य में व्याप्त भ्रांतियों एवं उनके वैज्ञानिक तथ्यों को विस्तार से समझाया। विद्यार्थियों को स्लोगन के माध्यम से जन जागरूकता के लिए प्रेरित किया जाए। डॉ अखिलेश यादव ने कोविड अनुकूल व्यवहार एवं सामाजिक दूरी,मास्क, सैनिटाइजर, के सही प्रयोग पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर जिले के प्राध्यापक उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags