सेकंड लीड

इटारसी-भोपाल चलते-चलते एंबुलेंस की हालत खराब

इटारसी। कोरोना संक्रमण का बड़ा हॉटस्पाट बन चुके शहर के सरकारी अस्पताल में एकमात्र एंबुलेंस के भरोसे सैकड़ों मरीजों को रेफर किया जाता है। पिछले दो माह में कई ऐसे मामले आए जब मरीजों को रेफर करने समय पर एंबुलेंस सुविधा नहीं मिल पाई। कोविड संक्रमित मरीजों के अलावा रोजाना सड़क हादसे या अन्य गंभीर बीमारियों के मरीजों के लिए दौड़-दौड़कर एंबुलेंस की सांस फूलने लगी है। लगातार चलने की वजह से एनटीपीसी द्वारा दी गई एंबुलेंस की हालत भी खराब हो रही है। उसका मेंटेनेंस कराना मुश्किल हो रहा है।

एंबुलेंस कंट्रोल रूम बनाए प्रशासनः नागरिकों का कहना है कि कोरोना संक्रमण के दौरान यदि प्रशासन आपातकाल में एंबुलेंस नहीं दे सकता तो निजी स्कूलों की बसों को ही एंबुलेंस सेवा के रूप में मुहैया कराए। ट्रेवल्स एजेंसियां कोरोना मरीज या उनके परिजनों को वाहन नहीं दे रहे हैं।

हम डॉक्टर हैं, जादूगर नहीं:

शनिवार को शांति समिति की बैठक में नागरिकों ने इलाज में लापरवाही और स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली पर सवाल उठाए। जवाब देते हुए अधीक्षक डॉ. एके शिवानी का दर्द फूटकर बाहर आ गया। उन्होंने कहा कि मैं छह महीने बाद रिटायर्ड होने जा रहा हूं। बच्चों के इलाज का विशेषज्ञ हूं, कोरोना का डॉक्टर नहीं। छह माह से दिन-रात व्यवस्थाएं संभाल रहा हूं। हम डॉक्टर हैं कोई, जादूगर नहीं। हमारे पास एकमात्र एंबुलेंस है, उसे कहां-कहां भेजा जाए।

वर्जन

आपातकाल में सारे मरीज एक एंबुलेंस से भेजे जाते हैं। दूसरा वाहन महिला चिकित्सकों को इमरजेंसी में लाने-छोड़ने के लिए आरक्षित है। इसका कोरोना ड्यूटी में उपयोग नहीं कर सकते। 108 एंबुलेंस को कॉल करने के बावजूद गाड़ी नहीं भेजी जाती।

डॉ. एके शिवानी, अधीक्षक डीएसपीएम अस्पताल।

वर्जन

पिछली रोगी कल्याण समिति की बैठक में नई एंबुलेंस खरीदने के लिए प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। बजट मंजूरी होते ही वाहन लिया जाएगा। जरूरत पड़ी तो रोकस के बजट का उपयोग भी करेंगे।

डॉ. सीतासरन शर्मा, विधायक।

27 आईटी 01

इटारसी। सरकारी अस्पताल में एक ही एंबुलेंस होने से मरीजों को परेशानी हो रही है।

27 आईटी 02

इटारसी। अस्पताल अधीक्षक डॉ. एके शिवानी जिन्होंने आपदा प्रबंधन की बैठक में अपनी बात रखी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020