होशंगाबाद, नवदुनिया प्रतिनिधि।

कृषि कार्य में उपयोग की जाने वाली ट्रैक्टर-ट्रालियों से इन दिनों रेत का अवैध परिवहन किया जा रहा है। ट्रैक्टर-ट्रालियों को इतनी तेजी से चलाया जा रहा है कि आए दिन हादसे हो रहे हैं, इसके बाद भी ना तो परिवहन विभाग कोई कार्रवाई कर पा रहा है और ना ही यातायात अमला ध्यान दे रहा है। ट्रैक्टर-ट्रालियों को रेत के अवैध परिवहन करने के दौरान पकड़ा जाता है तो पुलिस केस दर्ज कर इतिश्री कर देती है। वर्ष 2019 से लेकर 2020 तक करीब एक दर्जन हादसे हो चुके हैं, जो ट्रैक्टर- ट्रालियों के कारण हुए हैं। मालाखेड़ी रोड पर सबसे ज्यादा ट्रैक्टर-ट्रालियों की आवाजाही हो रही है। यहीं से वाहन रेत खदानों पर पहुंच रहे हैं।

यहां से रोज निकलते हैं वाहन

ट्रैक्टर-ट्राली चालक अंधाधुंध रफ्तार से वाहन दौड़ा रहे हैं। सिविल लाइन, मालाखेड़ी से होते हुए रोजाना वाहन रेत खदानों पर पहुंच रहे हैं। इसी मार्ग पर सबसे ज्यादा दुर्घटनाएं भी हो रही हैं। तीन दिन पहले ही एक ट्रैक्टर-ट्राली ने बाइक सवार दो युवकों को टक्कर मार दी थी। टक्कर मारने के बाद ट्रैक्टर चालक वहां से फरार हो गया। पुलिस ने अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ केस दर्ज किया गया। बाइक सवारों का कहना है कि ट्रैक्टर चालक बीचों बीच वाहन चला रहा था उसकी गति भी काफी अधिक थी।

कृषि कार्य की बजाए रेत का परिवहन

ट्रैक्टरों के जरिए रेत का अवैध करोबार किया जा रहा है। ट्रैक्टरों को शोरूम से लाकर सीधे रेत खदानों पर ले जाया जाता है। कृषि कार्य की बजाए अधिकतर ट्रैक्टर रेत का अवैध करोबार करने में जुटे हुए हैं। कई वाहन तो बिना नंबर के दौड़ रहे हैं। सड़क हादसों की जांच के दौरान पुलिस इन ट्रैक्टर-ट्रालियों का पता भी नहीं लगा पाती है। पुलिस अधिकारियों का दावा है कि जांच के दौरान वाहन जब्त कर लिए जाते हैं।

सबसे अधिक दुर्घटनाएं

ट्रैक्टर-ट्रालियों के कारण सबसे ज्यादा दुर्घटनाएं होशंगाबाद में हो रही हैं। चक्कर रोड, मालाखेड़ी रोड, बांद्राभान, धानाबड़ रोड तो दुर्घटना संभावित क्षेत्र बन चुके हैं। स्थानीय रहवासियों का कहना है कि यहां से ट्रैक्टर-ट्रालियां काफी तेजी से चलाई जा रही हैं।

वर्जन

परिवहन विभाग द्वारा समय-समय पर जांच अभियान चलाया जाता है। ट्रैक्टर-ट्रालियों की जांच कर कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में पुलिस की मदद भी ली जाएगी। चक्कररोड पर ट्रैक्टर-ट्रालियां रेत लेकर निकल रही है, इनकी भी जांच होगी।

- मनोज तेनगुरिया, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी, होशंगाबाद

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस