नर्मदापुरम (होशंगाबाद), नवदुनिया प्रतिनिधि।

राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने होशंगाबाद, बैतूल, हरदा के प्रशासनिक अधिकारियों से विभिन्ना विषयों पर चर्चा की। उन्होंने कहा की विकास की राह में पिछड़े वर्गों की उन्नाति के लिए पूरी संवेदनशीलता से कार्य करना जरुरी है। वंचित वर्गो को शिक्षाए स्वास्थ्यए आवास आदि सभी मूलभूत सुविधाएं मिले, इसका विशेष ध्यान रखें। राज्यपाल बुधवार को अतिथि गृह तवा भवन होशंगाबाद में ग्रामीण विकास विभाग, जनजाति कार्य विभागों की योजनाओं और कार्यक्रमों पर अधिकारियों के साथ चर्चा कर रहे थे। बैठक में कमिश्नर नर्मदापुरम रजनीश श्रीवास्तव, पुलिस महानिरीक्षक जेएस कुशवाहा, कलेक्टर होशंगाबाद धनंजय सिंह, कलेक्टर बैतूल अमनवीर सिंह बैस, पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह गौर, पुलिस अधीक्षक बैतूल सिमाला प्रसाद, संचालक एसटीआर एल कृष्णमूर्ति, जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी मनोज सरियाम उपस्थित थे। राज्यपाल ने कहा कि सतपुड़ा टाइगर रिजर्व अंतर्गत संचालित पर्यटन सबंधित गतिविधियों के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार से जोड़ा जाए। उन्होंने सभी विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों से कहा कि जमीनी स्तर पर वंचित वर्गों की समस्याओं को जाने और पूरी गंभीरता से उनका समाधान करें। यह जरुरी है कि मैदानी अधिकारी भी वंचित वर्गों के प्रति उदार रुख अपनाकर कार्य करें। जरुरत जनहित को सर्वोच्च प्राथमिकता देने की है। राज्यपाल को बैठक में कलेक्टर होशंगाबाद एवं बैतूल कलेक्टर द्वारा विभिन्ना हितग्राहीमूलक एवं निर्माण मूलक योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी दी गई। क्षेत्र संचालक, सतपुड़ा टाइगर रिजर्व एल कृष्णमूर्ति द्वारा वन्य जीव संरक्षण और पर्यटन संबंधी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में विस्तार से बताया गया। पुलिस अधीक्षक बैतूल द्वारा जिले में जनजाति क्षेत्रों में अपराध नियंत्रण के क्षेत्र में किए गए नवाचारों से अवगत कराया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local