होशंगाबाद। नईदुनिया प्रतिनिधि। Hoshangabad News पचमढ़ी से सेना की राइफल चुराने वाला आरोपित हरप्रीत सिंह मंगलवार सुबह करीब साढ़े चार बजे पंजाब के होशियारपुर अस्पताल से फरार हो गया।

गौरतलब है कि हरप्रीत सिंह और उसके साथी ने 5 दिसंबर 2019 को पचमढ़ी स्थित सेना शिक्षा कोर के प्रवेश द्वार से दो इंसास राइफल सहित कारतूस चुराए थे। इस मामले में उसे पंजाब के होशियारपुर जिले के टांडा से वहां की पुलिस ने 10 दिसंबर 2019 को गिरफ्तार कर राइफल व कारतूस जब्त किए थे।

सुरक्षा कारणों से उसे होशंगाबाद नहीं लाया जा सका था। 31 दिसंबर को बाएं कंधे के पास दर्द की शिकायत पर उसे होशियारपुर के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां उसका ऑपरेशन हुआ। मंगलवार सुबह 11 बजे उसकी छुट्टी कर जेल भेजा जाना था, लेकिन वह सुबह 4.30 बजे पुलिस को चकमा देकर भाग गया।

पुलिसकर्मी करीब ढाई घंटे तक उसे ढूंढते रहे, फिर सुबह 7 बजे वरिष्ठ अफसरों को सूचना दी। तब बड़े स्तर पर तलाशी अभियान शुरू किया। ड्यूटी पर तैनात रहे एएसआई बलराज सिंह, प्रधान आरक्षक देविंदर सिंह सहित अन्य जवानों से पूछताछ की जा रही है।

पंजाब पुलिस ने दी सूचना

पंजाब पुलिस ने होशंगाबाद पुलिस को सूचना दी, क्योंकि हरप्रीत वर्ष 2017-18 में पचमढ़ी में सेना के बैंड दल का प्रशिक्षण ले चुका था। अनुशासनहीनता के कारण उसे बर्खास्त किया था। उसे यहां की अच्छी जानकारी है, इसलिए वह यहां फिर आ सकता है। पंजाब पुलिस को यह भी शक है कि हरप्रीत पाकिस्तान भाग गया होगा, क्योंकि होशियारपुर से पाकिस्तान की सीमा तक जाने में महज दो-ढाई घंटे लगते हैं। सुरक्षा एजेंसियों को 26 जनवरी से पहले कोई बड़ी वारदात होने का इनपुट मिला है। इसमें भी उसके शामिल होने का संदेह है।

पुलिस टीम सतर्क

पंजाब पुलिस के अधिकारियों से आरोपित हरप्रीत के फरार होने की जानकारी मिली है। इस संबंध में और जानकारी जुटाई जा रही है। होशंगाबाद, इटारसी, पिपरिया, व पचमढ़ी में पुलिस टीम को अलर्ट कि या है।

-आशुतोष राय, (एडीजी) व आईजी होशंगाबाद रेंज

Posted By: Hemant Upadhyay

fantasy cricket
fantasy cricket