Narmadapuram News: नर्मदापुरम (नईदुनिया प्रतिनिधि)। स्टेट टाइगर स्ट्राइक फोर्स मप्र एवं टाइगर स्ट्राइक फोर्स नर्मदापुरम की संयुक्त टीम ने बाघ के शिकार मामले में पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने कबूल किया है कि बाघ का शिकार बैतूल के जंगल में किया गया।

गिरफ्तार आरोपितों में जनपद पंचायत जुन्नारदेव जिला छिंदवाड़ा का सरपंच भी शामिल है। आरोपित सरपंच की निशानदेही पर रविवार को तीन अन्य आरोपितों को गिरफ्तार किया गया।

सोमवार को उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच नर्मदापुरम न्यायालय में पेश किया गया। मामले की जांच अब टाइगर स्ट्राइक फोर्स की नर्मदापुरम इकाई करेगी।

जानकारी के अनुसार 12 जनवरी को ग्राम भाखरा पोस्ट थाना दमुआ तहसील जुन्नादेव जिला छिंदवाड़ा से एक आरोपित को बाघ की खाल सहित गिरफ्तार किया गया था।

आरोपित पर वन्यप्राणी संरक्षण अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया था। सतपुड़ा टाइगर रिजर्व के अधिकारियों का कहना है कि बाघ के शिकार मामले में कुछ और लोगों के नाम सामने आए हैं, जिनकी तलाश की जा रही है। जांच टीम यह पता लगाने में जुटी है कि बाघ का शिकार बैतूल के जंगल में किस स्थान पर किया गया था।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close