नर्मदापुरम। नवदुनिया प्रतिनिधि

भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता व पदाधिकारियों ने पार्षद पद के लिए टिकट की मांग की थी। बार-बार निवेदन किया पार्टी के तमाम नेताओं ने उन्हें आश्वासन भी दिया था, जिससे अनेक कार्यकर्ताओं ने अपना नामांकन पत्र भर दिया था उसके बाद पार्टी ने उन्हें टिकट न देकर किसी अन्य को दे दिया। जिससे रूठकर अनेक कार्यकर्ताओं ने पार्टी से बगावत करते हुए अपने नामांकन पत्र नहीं उठाते हुए निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला लिया है। गुरुवार को अनेक निर्दलियों ने सुबह के समय मां नर्मदा के पावन तट सेठानी घाट पर जाकर सामूहिक पूजन अभिषेक व मां नर्मदा की आरती करते हुए प्रार्थना की। इन निर्दलियों ने बताया कि हमने मां से आज यही प्रार्थना की है कि पार्टी ने तो हम पर ध्यान नहीं दिया, मां नर्मदा आप हमारी रक्षा करना। अब तो आपका ही सहारा है।

इन निर्दलीय प्रत्याशियों ने कहा कि हमें वार्ड के नागरिकों का आशीर्वाद मिल रहा हैं। क्योंकि शहर के नागरिक बहुत जागरूक हैं। पिछले कई वर्षों से पूरी लगन व शक्ति के साथ हमने जिस पार्टी के लिए कार्य करते रहे उस पार्टी के नेताओं से हमने सिर्फ एक-एक टिकट अपने लिए मांगी थी, लेकिन नेताओं ने हमारे त्याग व लगन को नजरअंदाज किया। हमारी घोर उपेक्षा करते हुए अन्य नेताओं की पत्नी, पूर्व पार्षदों की पत्नी व हम से कम पार्टी में सक्रिय रहने वालों को टिकट दे दिया। क्या यह परिवारवाद नहीं है। पार्टी की कथनी और करनी में अंतर साफ नजर आने लगा है। पूरा आश्वासन देने के बाद टिकट नहीं दिया, जिससे हमारा अपमान हुआ है। कई वर्षों बाद हमें चुनाव लड़ने का मौका मिल रहा था। उसके बाद वार्ड में आरक्षण व्यवस्था के दौरान आगामी समय में हमें कोई मौका नहीं मिलना है हमें कोई विधायक का टिकट नहीं चाहिए, पार्टी हमारी इसी प्रकार उपेक्षा करते रहेगी इसे ध्यान में रखते हुए ही हमने निर्दलीय चुनाव लड़ना तय किया है।

पूजन में शामिल रहे प्रमुख निर्दलीय

भाजपा से रूठकर निर्दलीय रूप से चुनाव लड़ने वालों में प्रमुख रूप से वंदना शर्मा वार्ड 15, सुचित्रा यादव वार्ड 29, रूपराम यादव वार्ड 32, कमल राव चव्हाण वार्ड 31, गोविंदा गोदरे की बहिन वार्ड 17, सत्या चौहान वार्ड 16, माया केवट वार्ड 26, सिमरन रायकवार वार्ड 32, सपना उप्रालिया वार्ड 13 आदि शामिल हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close