नर्मदापुरम (नवदुनिया प्रतिनिधि)।

जन्माष्टमी के पर्व के अवसर पर बिजली कंपनी की लापरवाही के कारण शाम होने के बाद करीब सवा घंटे तक सेठानी घाट सहित अन्य घाटों पर मौजूद हजारों श्रद्धालुओं को अंधेर में रहना पड़ा। साढ़े 6 बजे के करीब बिजली गुल हुई तो साढ़े सात बजे आई। इस दौरान मंदिरों में दर्शन के लिए आए हजारों श्रद्धालुओं को परेशान होना पड़ा। बिजली कंपनी के अधिकारियों को फोन लगाने पर फोन नहीं उठा रहे थे। इससे भी श्रद्धालुओं ने नाराजगी व्यक्त की। अग्रवाल समाज के अध्यक्ष आनंद अग्रवाल ने कहा कि त्यौहार के अवसर पर बिजली कंपनी के द्वारा इस तरह की लापरवाही करना ठीक नहीं है। वहीं बद्री विशाल मंदिर के पुजारी पं नितेंद्र चौबे व अन्य पंडितों ने भी बिजली कंपनी के द्वारा की गई लापरवाही पर नाराजगी व्यक्त की है। इस दौरान यादव यदुवंशी समाज के द्वारा शोभायात्रा निकाली जा रही थी। बिजली चले जाने पर शोभायात्रा में भी व्यवधान उत्पन्ना हुआ। सेठानी घाट पर जन्माष्टमी के अवसर पर दुकानदारों के द्वारा कन्हैया जी के वस्त्र तथा झूले व अन्य पूजन सामग्री की दुकान लगाई है। दुकानों पर अंधेरा रहने से उनके ग्राहक लौट गए। इस बीच हजारों की संख्या में श्रद्धालु वापस हो गए। जिससे दुकानदार भी परेशान हुए एक दुकानदार मनीष शर्मा ने कहा कि आज का ही दिन ग्राहकी के हिसाब से विशेष रहता है इसी दिन एक घंटे से अधिक समय तक बिजली चली जाने से हमारी ग्राहकी प्रभावित हुई है। इसी प्रकार ओमप्रकाश उमरे ने भी नाराजगी व्यक्त की है।

शहर में भी छाया रहा अंधकार

बिजली चले जाने से सिर्फ घाट पर ही नहीं शहर में भी अंधकार की स्थिति बनी रही। शाम से पूर्व भी दो बार बिजली चली गई थी। एक दिन पूर्व ही बिजली कंपनी के द्वारा घोषित तौर पर बिजली की कटौती करते हुए सुधार कार्य किया था लेकिन दूसरे दिन त्यौहार पर इस तरह से बिजली चली जाने से नागरिकों ने नाराजगी व्यक्त की है। दूसरी और बिजली कंपनी के अधिकारियों से जानकारी लेने के लिए फोन लगाने पर फोन रिसीव नहीं किया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close