- पिछले एक सप्ताह से शहर में दूषित पानी की हो रही सप्लाई।

फोटो 14 एचआरडीओसीटी 5 - हरदा। सोमवार को नर्मदा नदी से होने वाली जलसप्लाई के दौरान नलों से आया दूषित पानी।

हरदा। नवदुनिया प्रतिनिधि

शहर के कई वार्डों में पिछले एक सप्ताह से नलों में गंदा पानी सप्लाई हो रहा है। जो पीने योग्य नहीं है। शहर के लोग दूषित पानी सप्लाई होने से परेशान है। नगर पालिका द्वारा नर्मदा नदी से की जाने वाली जल सप्लाई में पानी को प्लांट में ठीक से साफ नहीं किया जा रहा है और मटमैला पानी ही शहर में सप्लाई किया जा रहा है। सोमवार को अन्य दिनों की अपेक्षा ज्यादा दूषित पानी सप्लाई हुआ। पानी हल्के पीले रंग का नजर आ रहा है। जिसे अधिकांश लोगों ने पीने व खाना बनाने में इस्तेमाल नहीं किया। यदि लोग इस पानी को पीने या खाना बनाने में इस्तेमाल करते है तो उन्हें उल्टी-दस्त जैसी बीमारियां होनी की संभावना है।

शहर के इंदिरा गांधी वार्ड क्रमांक 10 में रहने वाले ललित सिंह धवलें ने बताया कि कुछ दिनों से थोड़ा मटमैला पानी आ रहा था। लेकिन सोमवार को नर्मदा जी की लाइन से जो पानी सप्लाई हुआ है। वह तो एकदम ही दूषित नजर आ रहा है। पानी को देखकर पीने की इच्छा ही नहीं हो रही। उन्होंने बताया कि नगर पालिका को हर माह 75 रुपए पानी के बिल के रूप में देने के बाद भी पीने के पानी के लिए अलग से 600 रुपए प्रतिमाह कैन खरीदना पड़ रही है। जबकि गरीब आदमी मजबूरी में दूषित पानी ही पी रहे है। वार्ड क्रमांक एक में रहने वाले रज्जन कसेरा ने बताया कि उनके वार्ड में भी एक सप्ताह से भी अधिक समय से दूषित पानी की सप्लाई हो रही है। विभिन्ना वार्ड के लोगों ने नगर पालिका से पानी को ठीक से फिल्टर कर सप्लाई करने की मांग की है। ताकि दूषित पानी पीने से होने वाली बीमारियों से बचाव हो सकें।

-----------------------------

पाइप लाइन की मिट्टी आ गई होगी

सुकनि नदी की जो पाइप लाइन टूट गई थी। उसे एक-दो दिन पहले ही जोड़ा गया है। इस वजह से उन पाइपों में जो मिट्टी बगैरह जम गई थी। पानी के साथ वह भी आ गई होगी। मंगलवार से लोगों को साफ पानी मिलेगा।

- संतोष राठौर, हंडिया जल संयंत्र

----------------------------

Posted By: Nai Dunia News Network