16एचओएस4 होशंगाबाद। नगर के शहीद पार्क में रविवार को पेड़ों से झड़कर पत्ते जमीन पर बिखरे नजर आए। नवदुनिया

होशंगाबाद। नवदुनिया प्रतिनिधि

ठंडी हवा का झोंका अब गर्म लू के थपेड़ों में बदलने का मौसम आ रहा है। सर्दी को अलविदा करते हुए गर्मी का मौसम आने की आहट सुनाई देने लगी है। पेड़ों से पत्तों के झड़ने के नजारे मौसम में बदलाव होना दिखा रहे हैं। हालांकि अभी सुबह और शाम को ठंड का अहसास बरकरार है। लेकिन दोपहर में धूप चुभने लगी है। सर्दी से बचने के लिए जो लोग सुबह घर से गर्म कपड़े पहनकर निकलते हैं उन्हें दोपहर में गर्मी का अहसास होते ही गर्म कपड़े उतारने पड़ रहे हैं। ट्रेनों, बसों में सफर करने वाले यात्री सुबह तो गर्म कपड़ों में दिखते हैं, लेकिन दोपहर 12 बजे के बाद सभी लोग अपने गर्म कपड़े उतरे हुए दिखते हैं। यही हालात दफ्तरों, दुकानों और सार्वजनिक स्थानों पर कार्य करने वाले लोगों के दिखाई देते हैं। सुबह ठंडक होने के कारण कई नौकरीपेशा लोग गर्म कपड़े पहने दफ्तर पहुंचते हैं, लेकिन दोपहर होती है वे गर्म कपड़े उतार देते हैं। पंखे भी चलने लगे हैं। ठंड के मौसम में आमतौर पर सभी जगह पंखे बंद रहते हैं। पिछले दो दिन से दोपहर में लोग पंखे चला रहे हैं।

- सड़कों पर दिखती है धूप की चमक -

सूर्यदेव जैसे-जैसे सिर के ऊपर की ओर आते हैं वैसे-वैसे सड़कों पर धूप की तेज चमक दिखाई देने लगती है। दोपहर 12 बजे से शाम 4 बजे तक धूप के कारण लोग सड़कों पर बिना कोई गर्म कपड़ों के नजर आते हैं। सुबह 10 बजे तक और शाम छह बजे के बाद मौसम में ठंडक घुली रहती है। शाम को घर से निकलने वाले लोग गर्म कपड़ों का उपयोग कर रहे हैं।

- तापमान में परिवर्तन -

पिछले एक सप्ताह से तापमान में परिवर्तन देखा जा रहा है। रविवार को होशंगाबाद का न्यूनतम तापमान 13.6 व अधिकतम 30.8 डिग्री रहा। शनिवार को नगर का न्यूनतम पारा 15.2 व अधिकतम 30.1 डिग्री था। शुक्रवार को न्यूनतम 14.8 व अधिकतम पारा 29.9 डिग्री रहा। इस तरह पिछले पांच दिन से न्यूनतम पारा 13 से 15 के बीच तथा अधिकतम 29-30 डिग्री है।

- शहर में 48 डिग्री तक पहुंचता है पारा -

पिछले साल में अधिकतम तापमान 48 डिग्री तक रिकार्ड किया गया था। मौसम विभाग के अनुसार सर्वाधिक पारा मई के अंतिम सप्ताह में रहता है। नर्मदा नदी के किनारे और आसपास घना जंगल होने के बावजूद शहर का तापमान बढ़ना चिंता का विषय है।

- 10 डिग्री पारा कम करने का प्रयास -

यह बहुत ही चिंता की बात है कि पिछले साल शहर का तापमान 48 डिग्री तक पहुंच गया था। हमने नर्मदा किनारे, शहर के पार्कों, स्कूलों, सरकारी कार्यालय परिसरों में पौधारोपण कराएं हैं। बड़ी संख्या में पौधारोपण करते हुए हमारा प्रयास 10 डिग्री तक तापमान में कमी लाने है।

- अखिलेश खंडेलवाल, पूर्व नपाध्यक्ष होशंगाबाद।

Posted By: Nai Dunia News Network