हरदा। उपभोक्ताओं को अपने मीटर की रीडिंग स्वयं करने की सुविधा देने के लिए मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा उपाय एप में नया मॉड्यूल विकसित किया है। यह शहर वृत्त भोपाल के उपभोक्ताओं के उपयोग के लिए पायलट प्रोजेक्ट के रूप में उपलब्ध कराया है। इस सुविधा का उपयोग करने के लिए उपभोक्ता को हर माह में दी गई समयावधि में अपने मीटर की रीडिंग की फोटो लेकर रीडिंग के पैरामीटर्स के साथ उपाय एप में अपलोड करना होगा। अपलोड करने के बाद उपभोक्ता द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर कंपनी द्वारा डाटा बिलिंग सिस्टम में फीड कर बिलिंग का कार्य किया जाएगा। पायलट लोकेशन पर इस सुविधा को लाईव कर आने वाले रिस्पॉन्स के आधार पर इसे कंपनी स्तर पर लाइव किया जाएगा।

------------

फोटो 4 हरदा। ग्राम पिड़गांव में उफना नाला। नवदुनिया

फोटो 5 हरदा। तहसीलदार से हाथ जोड़कर मांगी मदद। नवदुनिया

फोटो 6 हरदा। बारिश के पानी से पीड़ित परिवार। नवदुनिया

पिड़गांव में बाढ़ पीड़ितों ने जोड़े हाथ, तहसीलदार से मांगी मदद

हरदा। नवदुनिया न्यूज

लगातार बारिश ने जिले की पूरी व्यवस्थाओं को बिगाड़ दिया है। यूं तो एक पखवाड़े से लगातार बारिश जारी है लेकिन गुरुवार - शुक्रवार की दरमियानी रात तेज बारिश ने एक बार फिर हड़कंप मचा दिया। शहर के छोटी हरदा वार्ड से लगे ग्राम पिड़गांव में बहने वाला नाला शुक्रवार को उफनने लगा। गांव के पास बनीं कॉलोनी में स्थित मकानों में नाले का पानी 9 सितंबर को आई सुकनी नदी में बाढ़ के कारण भरा गया था। इस पानी में ग्रामीणों की गृहस्थी का सारा सामान बह गया था। शुक्रवार को लगातार तेज बारिश के कारण फिर से यही स्थिति निर्मित होते देख ग्रामीणों ने कलेक्टर का दरवाजा खटखटाया। जानकारी मिलने पर कलेक्टर एस विश्वनाथन ने तत्काल तहसीलदार को मौका निरीक्षण करने के आदेश दिए। तहसीलदार अर्चना शर्मा ग्राम पिड़गांव पहुंची और ग्रामीणों से चर्चा की। ग्रामीणों ने तहसीलदार से हाथ जोड़कर कहा, कि फिलहाल हमारे भोजन की व्यवस्था कर दी जाए। इसके अलावा ग्रामीणों ने एक डॉक्टर और नाव की मांग की, ताकि पानी अधिक होने की स्थिति में वह सुरक्षित स्थान पर पहुंच सकें।

खंडवा - होशंगाबाद हाईवे बंद

लगातार बारिश के कारण ग्राम करोड़ा के पास बहने वाली नदी पुल के उपर से बहने लगी। जिसके कारण खंडवा - होशंगाबाद हाईवे शाम 4 बजे से बंद हो गया। इसके अलावा अंचल में सैकड़ों गांव का जिला मुख्यालय सहित तहसील से संपर्क टूट गया। पिछले 24 घंटे में हरदा में 38 मिमी बारिश दर्ज की गई। वहीं टिमरनी में29 और सबसे अधिक बारिश 75 मिमी खिरकिया में रिकार्ड की गई है। भू अभिलेख शाखा से मिली जानकारी के अनुसार जिले में चालू मानसून मौसम के दौरान गत एक जून से अब तक 1585.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है। गत वर्ष की इसी अवधि की औसत वर्षा 702.6 मिमी है। अधीक्षक भू-अभिलेख ने बताया कि अभी तक हरदा में 1532.9 (गत वर्ष 757.0) मि.मी., टिमरनी में 2016.2 (गत वर्ष 692.8) मिमी, खिरकिया में 1207.8 मिमी (गत वर्ष 658.2) मिमी औसत वर्षा दर्ज की है। जिले की सामान्य वर्षा 1261.7 मिमी है।

-------------

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket