- अस्पताल में परेशान हो रहे मरीज और परिजन

19एचओएस2 - जिला अस्पताल होशंगाबाद।

होशंगाबाद। नवदुनिया प्रतिनिधि

जिला अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों को ठंड के मौसम में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अस्पताल में उन्हें ना तो उचित कंबल मिल पा रहे हैं और ना ही बिस्तर। मरीजों को या तो बरामदे में लेटा दिया जा ता है या फिर बैंच पर लेटाया जाता है। प्रसूती वार्ड में महिला मरीज को फर्श पर लेटाने का मामला सामने आने के बाद अस्पताल प्रबंधन में हड़कंप मच गया है। अस्पताल के आला अधिकारी मामले की जांच कर कार्‌रवाई करने की बात कह रहे हैं, लेकि न सबसे बड़ा सवाल यह ह कि आखिर इतने दिनों से व्यवस्था क्यों नहीं देखी गई। सिविल सर्जन डॉ रविंद्र गंगराड़े का कहना है कि अस्पताल में सभी व्यवस्थाएं हैं।

जिला अस्पताल में बिस्तरों की कमी भी मरीजों व उनके परिजनों के लिए सबसे बड़ी परेशानी है। यहां भर्ती होने वाले मरीज के लिए बिस्तर नहीं मिल पाते हैं। मजबूरी में मरीजों को या तो निजी अस्पताल में जना पड़ता है तो वहीं बरामदे में ही भर्ती होना पड़ता है। गौरतलब है कि दो माह पूर्व अस्पताल के बरामदे में मरीजों को लेटाने का मामला सामने अया था। तत्कालीन कलेक्टर शीलंद्र सिंह सख्त कदम उठाते हुए सिविल सर्जन को जमकर फटकार लगाई जिसके बाद व्यवस्था बन सकी थी, लेकि न वर्तमान में सुविधाएं मरीजों के नहीं मिल पा रही है।

रोजाना लग रही लंबी लाइन

मौसम में उतार चढ़ाव का दौर लगातार बना हुआ है। कभी तेज धूप पड़ रही है तो कभी ठंड तेज हो जाती है। मौसम में हो रहे उतारचढ़ाव का असर लोगों के स्वास्थ्य पर भी पड़ रहा है। रोजाना ही सैकड़ों मरीज अस्पताल में विभिन्न बीमारियों से पीड़ित होकर पहुंच रहे हैं। सबसे ज्यादा परशानी सर्दी जुकाम और सिरदर्द से हो रही है। डॉक्टरों का कहना है कभी तीखे धूप व कभी तेज ठंड के कारण वायरल हो रहा है। सबसे ज्यादा परेशानी छोटे बच्चों को हो रही है।

ठंड में मरीजों को कि सी तरह की परेशानी ना हो इसके लिए हम पूरी व्यवस्थाएं कर रहे हैं। कंबल व बिस्तर भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

- डॉ रविंद्र गंगराड़े, सिविल सर्जन, जिला अस्पताल होशंगाबाद।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket