Water Harversting in Indore: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। भू जल संरक्षण अभियान से प्रेरित होकर शहर के कई रहवासी क्षेत्रों में व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में जल पुर्नभरण सिस्टम लगाया जा रहा है। शहर की नारायण बाग कालोनी के शतप्रतिशत घरों में जल पुर्नभरण सिस्टम लगाया जा चुका है। शनिवार को नारायण बाग कालोनी के आयोजित कार्यक्रम में यहां के रहवासियों का सम्मान किया गया।

केंद्रीय गुरु सिंह सभा द्वारा सभी गुरुद्वारों में जल पुर्नभरण सिस्टम लगाने पर गुरुद्वारों के प्रमुख को भी सम्मानित किया। इस कार्यक्रम में सांसद शंकर लालवानी, विधायक आकाश विजयवर्गीय, आयुक्त प्रतिभा पाल एवं अन्य जनप्रतिनिधि शामिल होंगे। कार्यक्रम में इंदौरी आर्टिस्ट द्वारा जल एंथम पर नृत्य की प्रस्तुति दी। वहीं कार्यक्रम में आरंभ कथक स्टूडियों के कलाकारों ने नृत्य प्रस्तुति भी दी। कार्यक्रम में शामिल लोगों जल पुर्नभरण सिस्टम को अपनाने के अपने अनुभव साझा किए। कार्यक्रम में निगम के अधीक्षण यंत्री महेश शर्मा ने जल पुर्नभरण की तकनीक और उससे होने वाले फायदों के बारे में बताया।

उन्होंने कहा कि निगम शहर में कान्ह व सरस्वती नदियों के कैचमेंट एरिया में बनी नालियों का गहरीकरण कर रहा है ताकि बारिश का पानी नदियों में सालभर रहे। इसके अलावा तालाबों की चैनल को बेहतर बनाया जा रहा है। कुएं व बावड़ियों की सफाई कर वहां पर भी भूजल पुर्नभरण के प्रयास किए जा रहे है। उन्होंने बताया कि बरसाना गार्डन में जलपुर्नभरण का माडल तैयार किया गया है। कोई भी व्यक्ति यदि जलपुर्नभरण के तरीकों के बारे में जानना चाहता है तो वो वहां का अवलोकन कर जानकारी प्राप्त कर सकता है।

निगम के इंदौर 311 एप पर कोई भी शहरवासी जलपुर्नभरण के लिए आवेदन कर सकता है। निगम के संबंधित ठेकेदार उस व्यक्ति से संपर्क कर उसके घर या प्रतिष्ठान पर जलपुर्नभरण सिस्टम लगाएंगे। इसके अलावा सिटी बस कार्यालय में बनाए गए कंट्रोल रुम पर फोन कर जल पुर्नभरण की जानकारी ली जा सकती है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close