इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि), 18+ vaccination Indore। शनिवार को इंदौर में टीकाकरण को लेकर युवाओं में काफी उत्साह दिखा। जिले में 30 टीकाकरण केंद्रों पर 18 से 44 वर्ष के 2710 लोगों को कोरोना टीका लगाया गया। 30 टीकाकरण केंद्रों में से 20 शहरी क्षेत्र में और 10 गांवों में बनाए गए थे। इनमें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के अलावा निजी स्कूलों में बनाए केंद्र भी शामिल हैं। टीकाकरण सुबह नौ बजे से शुरू होना था, लेकिन कुछ केंद्रों पर 12 बजे तक शुरू हो सका। सभी केंद्रों पर शाम चार बजे तक 90 फीसद टीकाकरण हो चुका था। रामबाग स्थित संस्कृत महाविद्यालय के टीकाकरण केंद्र पर सुबह आठ बजे से ही टीका लगवाने के लिए लोग पहुंच गए थे, लेकिन यहां सुबह 11 बजे टीकाकरण प्रारंभ हो सका। दूसरी ओर नगर निगम मुख्यालय परिसर के टीकाकरण केंद्र में ज्यादा भीड़ नहीं रही। यहां जिन लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया था वो ही पहुंचे और टीका लगवाया।

कोड बताने पर केंद्र पर लगाया टीका : टीकाकरण के लिए शनिवार से स्वास्थ्य विभाग ने प्रक्रिया में कुछ बदलाव किया। इसमें टीके के लिए रजिस्ट्रेशन कराने वाले व्यक्ति के मोबाइल पर ओटीपी भेजा जाता है। शुक्रवार को कई लोगों को रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद भी काफी समय तक ओटीपी नहीं मिला। इस वजह से लोगों ने देर रात रजिस्ट्रेशन करवाया। इसके बाद उन्हें एक कोड मोबाइल पर मिला। इस कोड को टीकाकरण केंद्र पर बताने के बाद ही टीका लगाया गया।

पूर्व पार्षद के पति व समर्थकों ने किया विवाद : शनिवार को एयरपोर्ट क्षेत्र स्थित सेंट गिरी स्कूल में बने टीकाकरण केंद्र पर पूर्व पार्षद के पति व समर्थकों का वहां मौजूद आशा कार्यकर्ता के साथ विवाद हो गया। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों को आशा कार्यकर्ता ने सूचना दी कि पूर्व पार्षद पति मुकेश शर्मा अपने परिचितों को रजिस्ट्रेशन नहीं होने के बाद भी टीका लगाने का दबाव बना रहे हैं। हालांकि शर्मा का कहना है कि आशा कार्यकर्ता का काम वार्ड में जाकर लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित करना है, लेकिन शनिवार को वे बेवजह बैठी थीं। उन्हें अपने कार्य स्थल पर जाने को कहा तो नाराज हो गईं।

सोमवार के लिए कराया रजिस्ट्रेशन : इंदौर में स्वास्थ्य विभाग द्वारा सोमवार को तीन हजार लोगों को टीका लगाने की योजना बनाई गई है। सोमवार को 18 साल से अधिक उम्र के लोगों लगाए जाने वाले टीके के लिए शनिवार को रजिस्ट्रेशन की लिंक खुली और कई लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाए।

कोविशील्ड खत्म, 40 हजार कोवैक्सीन उपलब्ध

जिला टीकाकरण अधिकारी डा. प्रवीण जड़िया के मुताबिक जिले में कोविशील्ड वैक्सीन खत्म हो गई है। कोवैक्सीन के 40 हजार डोज उपलब्ध हैं। अगले एक-दो दिन में इंदौर में वैक्सीन का लाट पहुंचने की संभावना है। हालांकि आगामी दो-तीन दिन के लिए पर्याप्त वैक्सीन उपलब्ध है।

माधव विद्यापीठ में 277 लोगों ने लगवाए टीके

महाराष्ट्र मंडल, वैशाली नगर, तरुण मंच और महाराष्ट्र समाज (राजेंद्र नगर) के संयुक्त तत्वावधान में माधव विद्यापीठ वैशाली नगर में टीकाकरण शिविर लगाया गया। यहां 45 साल से ऊपर वाले 277 लोगों ने वैक्सीन लगवाई। टीकाकरण शिविर के संयोजक अमोल जांभेकर, प्रशांत बडवे ने बताया कि पांच से आठ मई के बीच शिविर रखा है। चार दिन में लगभग एक हजार लोगों को दूसरी डोज लगाई गई।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags