अभिषेक चेंडके, इंदौर (नईदुनिया)। कोरोना संक्रमण ने शहर में अनलॉक के बाद युवाओं को भी शिकार बनाना शुरू कर दिया है। लॉकडाउन के समय 30 वर्षीय युवक की मौत हुई थी, लेकिन अनलॉक के बाद से अब तक 21 से 40 वर्ष की उम्र के मरीजों की मौत का आंकड़ा बढ़ने लगा है। 418 मौतों के डेथ ऑडिट में 40 वर्ष तक की उम्र के 19 लोग कोरोना से जान गंवा चुके हैं।

यह आंकड़ा उन युवाओं के लिए चिंताजनक है जो यह सोचते हैं कि कोरोना उनके लिए नुकसानदायक नहीं होगा। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क के बगैर सबसे ज्यादा युवा ही नजर आते हैं। कम उम्र में मौत की वजह भी ब्लड प्रेशर, दिल की बीमारी और हाइपरटेंशन है। मार्च में जब संक्रमण फैला था, तब 30 से 40 वर्ष की आयु के संक्रमित कम लक्षण वाले थे।

उनके लिए कोरोना जानेलवा साबित नहीं हो रहा था, लेकिन अब इनकी मौतों का प्रतिशत पांच हो गया है। हालांकि अभी भी सबसे ज्यादा 139 मौतें 61 से 70 वर्ष की आयु वर्ग के मरीजों की हुई है। संक्रमण का शिकार होने के बाद ज्यादातर मरीजों की मौत दिल का दौरा पड़ने और फेफड़ों में संक्रमण के कारण हो रही है। जिन लोगों को पहले से शुगर और ब्लड प्रेशर की शिकायत है, उनके लिए कोरोना जानलेवा साबित हो सकता है। कुछ ऐसे मरीजों की मौत भी हुई है जिन्हें पहले कोई बीमारी नहीं थी।

पुरुषों की मौत ज्यादा

कोरोना से जान गंवाने वालों में पुरुषों की संख्या ज्यादा है। शहर में 18 सितंबर तक 300 से ज्यादा पुरुषों की मौत हो चुकी है, जबकि महिलाओं की मौतों का आंकड़ा 175 से ज्यादा है।

आयु वर्ग- मौतें

21 से 30-4

31 से 40-15

41 से 50-53

51 से 60-106

61 से 70-139

71 से 80-77

80 से ऊपर-24

(आंकड़े सरकारी डेथ ऑडिट के अनुसार)

इनका कहना है

ज्यादातर युवा सोचते हैं कि कोरोना उनके लिए गंभीर नहीं है। पहले की तुलना में अब कम उम्र के लोगों की भी मौत ज्यादा हो रही है। खुद की रोग प्रतिरोधक क्षमता का आकलन करना उचित नहीं है। बुखार आने पर जांच कराने में युवा संकोच न करें।

-डॉ. अनिल डोंगरे, स्क्रीनिंग सेंटर प्रभारी

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020