इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा नजर आ रहा है। मंगलवार को इंदौर में कोरोना पाजिटिव की संख्या 2047 हो गई। मंगलवार को 11515 सैंपल की जांच की गई जिसमें से 2047 नए पाजिटिव मरीज मिले। इंदौर में अब तक 3307485 लोगों की जांच की जा चुकी है जिसमें से 171167 लोग अब तक पाजिटिव मिले हैं। इंदौर में फिलहाल 13368 कोरोना संक्रमितों का उपचार चल रहा है। मंगलवार को 603 मरीज अस्पताल से स्वस्थ होकर अपने घर लौटे। शहर में इस दिन कोरोना से एक व्यक्ति की मौत हुई है। इंदौर में अब तक कोरोना के कारण मरने वालों की संख्या 1400 हो चुकी है।

कलेक्टर ने कहा- अस्पतालों में दस हजार कोरोना मरीज भी आए तो नहीं लगेंगे प्रतिबंध

शहर में कोरोना संक्रमण के मरीजों का आंकड़ा तो बढ़ रहा है, लेकिन राहत की बात है कि इन मरीजों को न तो आक्सीजन की जरूरत पड़ रही है और न ही अस्पताल में बेड की जरूरत है। जो लोग पाजीटिव हो रहे हैं, वे जल्दी ठीक भी हो रहे हैं। अधिकांश लोग होम आइसोलेशन में हैं। यदि अस्पतालाें में 10 हजार कोरोना संक्रमित भी भर्ती होते हैं तो शहर और जिले में काेई और पाबंदी या प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा।

काेरोना संक्रमितों के बड़े आंकड़े के बाद भी कलेक्टर मनीषसिंह ने शहर में लाकडाउन या कोरोना कर्फ्यू जैसी अटकलों को इस तरह खारिज किया। उन्होंने बताया कि अस्पतालों में कोरोना के केवल 2 प्रतिशत मरीज भर्ती हैं। यदि अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या बढ़ती है तो प्रतिबंध लगाने के बारे में विचार किया जाएगा। अस्पतालों में भर्ती मरीज बढ़ते हैं तो चिंता की जाएगी। चिंता तो अब भी हम कर रहे हैं लेकिन जहां तक शहर की गतिविधियों को नियंत्रित करने की बात है तो अभी ऐसी आवश्यकता नहीं है। हम लगातार नजर रखे हुए हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, सोमवार को कोरोना के 2106 नए मरीज मिले थे, जो तीसरी लहर में अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है, लेकिन राहत की बात है कि उतनी ही जल्दी मरीज ठीक भी हो रहे हैं।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local