Coronavirus Indore News: अश्विन बक्शी, इंदौर (नईदुनिया)। शहर में कोरोना का नया रूप नजर आ रहा है। इसमें संक्रमित गंभीर मरीजों के साथ ही ऐसे मरीजों को भी सांस लेने में दिक्कत हो रही है जो गंभीर नहीं है। ऐसे में सिर्फ बुखार होने के बावजूद इन्हें अस्पतालों में भर्ती करना पड़ रहा है। शहर के चार अस्पतालों में पहुंचने वाले मरीजों में से लगभग 40 प्रतिशत मरीज इसी स्थिति में ही पहुंच रहे हैं, जबकि पहले यह आंकड़ा 10 फीसद था।

डॉक्टरों के अनुसार एक या दो दिन ऑक्सीजन देने के बाद कई मरीज खुद सांस लेने में सक्षम हो जाते हैं, लेकिन गंभीर मरीजों को बाय पेप या वेंटिलेटर पर लेना जरूरी होता है। इस अवस्था में अस्पताल पहुंचने का सबसे मुख्य कारण देरी से जांच कराना भी सामने आया है। लोग पहले सर्दी और अन्य बीमारी की दवाइयां ले रहे हैं। ठीक नहीं होने और संक्रमण बढ़ने पर जांच करा रहे हैं। वायरस के प्रभाव से इनके फेफड़े संक्रमित हो जाते हैं। दूसरी गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीजों के लिए यह गंभीर समस्या बन जाती है।

17 सितंबर तक अस्पतालों की स्थिति

एमआरटीबी

कुल मरीज -100

आइसीयू-28

गंभीर- 12

ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी- 60

एमटीएच

कुल मरीज-284

आइसीयू-80

गंभीर- 14

ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी- 170

सुपर स्पेशिएलिटी

कुल मरीज-100

आइसीयू - 10

गंभीर -8

ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी- 60

इंडेक्स

कुल मरीज- 340

आइसीयू-40

गंभीर-2

ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी- 200

अरबिंदो

कुल मरीज -990

आइसीयू- 150

गंभीर- 12

ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी- 500

इनका कहना है

कुछ दिनों से गंभीर अवस्था में पहुंचने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी है। इनके सुधार होने में भी अधिक समय लगता है। पहले ऑक्सीजन की जरूरत वाले मरीजों की संख्या कम थी, अब 40 से 45 प्रतिशत ऐसे मरीज पहुंच रहे हैं जिन्हें ऑक्सीजन पर लेना जरूरी होता है। वायरस का प्रभाव फेफड़ों पर होने के कारण सांस लेने में दिक्कत होती है।

डॉ. सलिल भार्गव, प्रभारी एमआरटीबी अस्पताल

पहले 10 प्रतिशत मरीजों को ही ऑक्सीजन लगाने की जरूरत महसूस होती थी, लेकिन अब ऐसे मरीज ज्यादा आ रहे हैं जो सांस लेने में तकलीफ की समस्या बताते हैं। 40 से 45 प्रतिशत मरीजों को ऑक्सीजन लगाई जाती है।

आरसी यादव, एडिशनल डायरेक्टर, इंडेक्स मेडिकल कॉलेज

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020