Accident in Indore : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंदौर में चार साल के मासूम राजवीर की लिफ्ट के डक्ट में डूबने से मौत हो गई। वह मां के साथ खाट पर सो रहा था। जैसे ही राजवीर की मां ने छोटे बेटे को दूध पिलाने के लिए करवट ली, वह उठकर खेलने पहुंच गया और लिफ्ट के डक्ट में डूब गया। 20 मिनट बाद उसका शव डक्ट में मिला।

पलासिया थाना के एएसआइ ईश्वरचंद्र राठौर के मुताबिक घटना मनभावन नगर की सोमवार शाम करीब 4 बजे की है। कालोनी में रहने वाले शंकरलाल के तीन मंजिला मकान का निर्माण चल रहा है। जहां चेनपुर (खरगोन) निवासी मुन्नालाल मजदूरी के साथ-साथ मकान की चौकीदारी भी करता है। उसकी पत्नी व दो बच्चे (राजवीर और पंकज) भी साथ रहते हैं। सोमवार को मजदूर और मिस्त्री काम रोककर कुछ देर के लिए चाय-नाश्ता करने चले गए थे। मुन्नालाल की पत्नी रानू राजवीर और पंकज को लेकर कमरे में चली गई। दोनों बच्चों को सुलाया और पंकज को दूध पिलाने लगी। मां के करवट लेते ही बगल में सो रहा राजवीर उठ गया और खेलने चला गया। करीब 15 मिनट बाद रानू ने राजवीर को आवाज लगाई, लेकिन कोई पता नहीं चल पाया। थोड़ी देर बाद मुन्नालाल भी आ गया। पड़ोसी मनोज व अन्य लोगों की भी भीड़ जमा हो गई।

पहले लगा बच्चा चोर उठा ले गए - रहवासियों को लगा राजवीर को बच्चा चोर उठा कर ले गए हैं। लोग इधर-उधर तलाश भी करने में जुटे। इसी बीच करीब आधा घंटा बाद राजवीर डक्ट में मिला। डक्ट में पानी भरा हुआ था। उसे बाहर निकाल निजी अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन यहां से चाचा नेहरू अस्पताल रेफर कर दिया। चाचा नेहरू के डाक्टर ने भी एमवाय दिखाने की सलाह दी। हालांकि डाक्टर ने उसे देखते ही मृत बता दिया। पुलिस के मुताबिक मकान मालिक और ठेकेदार की लापरवाही की जांच की जा रही है। डक्ट को ढंककर रखना था। खुला छोड़ने के कारण ही हादसा हुआ है।

कालेज से आते ही फांसी लगाई - एमआइजी थाना क्षेत्र स्थित विकास नगर में निजी कालेज की कर्मचारी 24 वर्षीय अदिति पुत्री नृसिंग ने फांसी लगा कर खुदकुशी कर ली। पुलिस के मुताबिक अदिति के पिता भी निजी कालेज में नौकरी करते हैं।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close