इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। आतंकवादी गतिविधियों में फरार आरोपित को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सोमवार सुबह इंदौर के आजाद नगर क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। एनआईए उसे बर्द्धमान बम धमाकों में तलाश रही थी। करीब दो साल से वह अलग-अलग क्षेत्रों में मजदूर बनकर रह रहा था। स्वतंत्रता दिवस के ठीक पूर्व हुई इस गिरफ्तारी को अहम माना जा रहा है। आजाद नगर थाना पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार आतंकी का नाम जहीरुल उर्फ जाकिर पिता जूद अली शेख निवासी हैटरपारा थानेपर जिला नादिया (प. बंगाल) है।

उसे कोहिनूर कॉलोनी से शाकिर खान के मकान से पकड़ा। शेख जमात-उल-मुजाहिद (जेएमबी) मॉड्यूल का सक्रिय सदस्य है और वह तीन लाख रुपए के इनामी मो. रिजाउल करीम का करीबी है। वह अक्टूबर 14 में खगड़ागढ़ (बर्द्धमान) में हुए बम विस्फोट में शामिल था, जिसमें जेएमबी के दो आतंकी भी मारे गए थे। शेख को आतंकियों को विस्फोटक और हथियारों का प्रशिक्षण देने में महारत हासिल है। वह ट्रेनिंग कैंप और बम बनाने का प्रशिक्षण ले चुका है।

स्थानीय पुलिस को पूछताछ की नहीं मिली इजाजत

एनआईए शेख की एक वर्ष से निगरानी कर रही थी। एजेंसी को उसके एक रिश्तेदार के मोबाइल की जांच के दौरान इंदौर की लोकेशन मिली थी। स्थानीय पुलिस को बताए बगैर अफसरों ने उसकी रेकी की और आने-जाने व रहने के सारे ठिकानों की जानकारी जुटाकर क्राइम ब्रांच की मदद से छापा मारा। उसकी गिरफ्तारी को गोपनीय रखा गया और स्थानीय पुलिस को उससे पूछताछ करने तक की इजाजत नहीं मिली। मंगलवार को एजेंसी ने उसे कोर्ट में पेश किया और ट्रांजिट रिमांड पर लेकर कोलकाता रवाना हो गई।

Posted By: Hemant Upadhyay