इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Illegal Liquor Indore। जिले के सांवेर थाना क्षेत्र के बड़ोदिया खान गांव में अवैध तरीके से बेची जा रही शराब पकड़ने के दौरान हुए बवाल के बाद प्रशासन ने तय किया है कि जिले में अवैध शराब की बिक्री पर सख्त कार्रवाई होगी। शहर के आस-पास, बायपास रोड और जिले के विभिन्न क्षेत्रों में अवैध शराब के अड्डों पर दबिश दी जाएगी। ढाबों और होटलों पर बिक रही अवैध शराब के खिलाफ तो कार्रवाई होगी ही, ढाबों के अवैध निर्माण होने पर उन्हें तोड़ा भी जाएगा।

इसके लिए प्रशासन, पुलिस और आबकारी विभाग संयुक्त रणनीति से काम करेंगे। गुरुवार को कलेक्टर मनीषसिंह ने पुलिस और आबकारी अधिकारियों की संयुक्त बैठक ली। इसमें तय हुआ कि अवैध शराब की बिक्री रोकने के लिए अभियान चलाया जाएगा। बैठक में आइजी हरिनारायणाचारी मिश्र, अपर कलेक्टर अजयदेव शर्मा, अभय बेड़ेकर, आबकारी विभाग के सहायक आयुक्त राज नारायण सोनी और ड्रग विभाग के अधिकारी भी मौजूद थे।

मेडिकल स्टोर्स पर बिकने वाली नींद की दवाओं और केमिकल पर रहेगी निगरानी

प्रशासन की बैठक में इस बात पर भी चिंता जाहिर की गई कि मेडिकल स्टोर्स से बिकने वाली नींद लाने की दवाओं और ऐसे केमिकल जिनमें स्प्रिरिट और एल्कोहल होता है, उसे भी कुछ लोग नशे के लिए लेने लगे हैं। यह खतरनाक स्थिति है। इसे रोकने के लिए मेडिकल स्टोर्स से बिकने वाली ऐसी दवाओं पर सख्त निगरानी और रिकार्ड रखा जाएगा। इसके लिए ड्रग इंस्पेक्टरों को भी निर्देश दिए गए। डॉक्टर की पर्ची के बिना ऐसी दवाएं नहीं दी जा सकेंगी। हालांकि इस संबंध में प्रशासन द्वारा समय-समय पर धारा-144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए जाते हैं, लेकिन फिर भी नशे के इस वैकल्पिक उपायों पर खास निगरानी नहीं है।

Posted By: Sameer Deshpande

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस