Agnipath Scheme : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सेना में भर्ती के लिए केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्निपथ योजना के विरोध में चल रहे प्रदर्शन के चलते इंदौर रेलवे स्टेशन पर तीन दिन से सर्तकता बरती जा रही है। सुरक्षा इतनी सख्त है कि युवा यात्रियों का समूह दिखने पर ही अलर्ट मोड़ पर आ जाते हैं। हालांकि मुख्य स्टेशन पर कोई प्रदर्शन अब तक नहीं हुआ है। इंदौर के साथ आसपास के छोटे स्टेशनों पर भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

दो दिन पहले उन्मादी युवाओं की भीड़ ने लक्ष्मीबाई नगर स्टेशन पर अचानक से धावा बोल दिया था। प्रदर्शनकारी लक्ष्मीबाई नगर स्टेशन के यहां पटरी पर आ गए थे। इस दौरान उन्होंने इंदौर-दौंड एक्सप्रेस के एसी कोच पर पथराव कर दिया था और उसके कांच फोड़ दिए थे। आरपीएफ और जीआरपी के सुरक्षाकर्मियों ने जिला पुलिस बल की सहायता से इन्हें खदेड़ दिया था। इसके बाद से रेलवे स्टेशन पर अलर्ट है। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि हम अपनी तरफ से पूरी सख्ती कर रहे हैं। देश के दूसरे मंडल पर ट्रेनों में आगजनी तक की घटना हो चुकी है, लेकिन हम सतर्क हैं। तीन दिन से हमने कड़ी सुरक्षा व्यवस्था कर रखी है जिससे अब तक यहां कोई प्रदर्शन नही हुआ है। शुक्रवार रात कुछ युवक जरूर स्टेशन पर प्रदर्शन करने पहुंचे थे जिन्हें सुरक्षाकर्मियों ने खदेड़ दिया था। इसी के बाद से हमने अलर्ट कर दिया है।

युवाओं की भीड़ दिखे तो तुरंत सूचना दें - इंदौर के अलावा आसपास के छोटे स्टेशन पर भी सुरक्षा की जा रही है। वहीं रेलकर्मियों को भी निर्देश हैं कि कुछ भी शंका होने या युवकों का झुंड दिखने पर तत्काल सूचना दे दें। गौरतलब है कि दो दिन पहले हुए प्रदर्शन के कारण महू से रतलाम जा रही ट्रेन को राजेन्द्र नगर में निरस्त कर वापस लौटाना पड़ा था। जबकि रतलाम से आ रही डेमू ट्रेन को पालिया से वापस भेज दिया गया था। कुछ अन्य ट्रेनों को भी सुरक्षा के कारण रोक दिया गया था। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा था।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close