Air Ticket Refund : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। लॉकडाउन के कारण घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगने के बाद इस अवधि के कैंसल टिकटों के बदले क्रेडिट नोट देने वाली एयरलाइंस अब यात्रियों को रिफंड देने की तैयारी कर रही हैं। इंदौर में ही कई लोगों के लाखों रुपये अटके हुए हैं। ट्रैवल एजेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया के प्रदेश अध्यक्ष हेमेंद्रसिंह जादौन के मुताबिक 23 मार्च से देश में केवल कार्गो और स्पेशल उड़ानों को अनुमति है। डोमेस्टिक फ्लाइट तो शुरू हो गई है, लेकिन इंटरनेशनल फ्लाइट पर अभी भी रोक लगी है। इस अवधि में जिन लोगों ने टिकट बुक करवा लिए थे, एयरलाइंस उन्हें क्रेडिट नोट बनाकर दे रही थीं, जिसमें आगे यात्रा करने पर टिकट के मूल्य में यह नोट काम आ जाता है।

वहीं टिकट के मूल्य में अंतर होने पर यात्री को वह पैसा जरूर देना होता है। इसे लेकर हमारे पास कई यात्रियों की शिकायतें आ रही थीं। उनका कहना था कि वे अभी कुछ समय तक यात्रा नहीं करना चाहते हैं। इसे लेकर हमने प्रमुख एयरलाइंस से बात की है। हमारे एसोसिएशन ने मुख्यालय स्तर पर भी चर्चा की है। इसमें यह तय किया गया है कि एयरलाइंस अब यात्रियों को रिफंड देना भी शुरू करेंगी। जल्द ही इस संबंध में आदेश भी आ जाएगा। जादौन के मुताबिक सरकारी एयरलाइंस एयर इंडिया ने इस संबंध में सहमति दे दी है, जबकि कुछ निजी एयरलाइंस भी एक-दो दिन में इस संबंध में घोषणा कर देंगी।

इंदौर में अटके लाखों रुपये

जानकारी के मुताबिक सामान्य दिनों में इंदौर एयरपोर्ट से हर दिन करीब 90 फ्लाइट आती-जाती हैं, वहीं औसतन ढाई लाख लोग इनमें सफर करते हैं। इसमें से आधे लोग इंदौर से ही विमानों में सवार होते हैं। वहीं लोग सस्ते टिकट पाने के लिए कुछ माह पहले ही बुकिंग करवा लेते हैं। इस कारण यहां काफी लोगों के लाखों रुपये अटके हुए हैं।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना