इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Murder In Indore । 30 वर्षीय आकाश मिड़किया की हत्या में अभी तक पुलिस खाली हाथ है। बुधवार देर रात तक पुलिस बदमाशों के आने जाने वाले रास्तों की जानकारी जुटाती रही। करीब सवा सौ सीसीटीवी कैमरों की जांच में खुलासा हुआ बदमाश मरीमाता की तरफ से पोलोग्राउंड की तरफ आए थे।

एएसपी (पूर्वी-3) शशिकांत कनकने के मुताबिक वाल्मिकी नगर निवासी आकाश पुत्र यशवंत मिड़किया की बुधवार सुबह उस वक्त हत्या कर दी गई थी, जब वह पत्नी वर्तिका को बस स्टॉप पर छोड़ कर स्कूटर से घर लौट रहा था। वर्तिका देवास के अमलताश अस्पताल में एचआर का काम करती है। वारदात के तरीके से लग रहा था कि घटना में परिचित का हाथ है।

पुलिस ने इसी को ध्यान में रखते हुए उन सभी की सूची बनाई थी जो यह जानते थे कि आकाश उर्फ अक्कू सुबह पत्नी को छोड़ने जाता है और पोलोग्राउंड होते हुए वापस लौटता है। पुलिस ने एमआर-4, डीआरपी लाइन, मरीमाता चौराहा की तरफ के सभी सीसीटीवी कैमरे भी खंगाले। इससे पता चला बदमाश मरीमाता की तरफ से आए थे। एक बदमाश रैकी करते हुए पीछे ही चल रहा था और दो बाइक पर पीछे पीछे थे।

मोबाइल में मिले सट्टे और शेयर बाजार के सबूत

पुलिस ने आकाश के मोबाइल की जांच की तो पता चला आकाश सट्टा का काम भी करता था। उसके मोबाइल में शेयर बाजार में निवेश की जानकारी भी मिली है। पुलिस इन सभी बिंदुओं पर भी जांच कर रही है।

इन बिंदुओं पर टिकी पुलिस की जांच

- बदमाश मरीमाता तरफ से आते दिखें।

- पत्नी वर्तिका के दोस्तों की भूमिका की जांच।

- सट्टे के लेनदेन वालों के ईर्द गिर्द जांच।

- उज्जैन में लेनदेन करने वालों की भूमिका की पड़ताल।

- हत्यारों को आकाश के आने जाने का रास्ता किसने बताया।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local