इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। लता मंगेशकर के जन्म दिवस 28 सितंबर को बहु प्रतीक्षित लता अलंकरण समारोह आयोजित किया जाएगा। बीते तीन वर्षों से यह समारोह लंबित चला आ रहा है। वर्ष 2019 का लता अलंकरण पार्श्व गायक शैलेंद्र और वर्ष 2020 का सम्मान गीतकार आनंद मिलिंद को दिया जाना तय हुआ है। वहीं वर्ष 2021 के सम्मान के लिए संस्कृति विभाग द्वारा नाम चयनित करने की प्रक्रिया चल रही है। लता अलंकरण समारोह के साथ ही प्रदेश के कलाकारों को भी सम्मानित करने के लिए संभागीय मुख्यालयों पर 20 सितंबर तक सुगम संगीत की प्रतियोगिताएं की जाएंगी। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की घोषणा के अनुसार, लता अलंकरण समारोह उनके जन्म दिवस पर करना तय हुआ है।

हर संभाग से सुगम संगीत प्रतियोगिता में चयनित प्रथम और द्वितीय क्रम के विजेताओं का फाइनल राउंड लता अलंकरण के मुख्य समारोह के एक दिन पहले इंदौर में किया जाएगा। इसमें सभी संभागों से चयनित विजेता कलाकार हिस्सा लेंगे। इस फाइनल प्रतियोगिता के प्रथम, द्वितीय और तृतीय आने वाले विजेताओं को भी मुख्य समारोह में सम्मानित और पुरस्कृत किया जाएगा। सुगम संगीत की यह प्रतियोगिताएं करवाने की जिम्मेदारी और समन्वय उस्ताद अलाउद्दीन खां संगीत एवं कला अकादमी को सौंपा गया है।

प्रतियोगिता करवाने के लिए संभाग मुख्यालयों को भेजे पत्र - सुगम संगीत प्रतियोगिताओं की तैयारी के लिए गुरुवार को इंदौर में कमिश्नर कार्यालय में बैठक भी हुई। इस बैठक में संयुक्त आयुक्त सपना शिवाले सोलंकी, भोपाल से अकादमी के अधिकारी विजय भालेराव, मोहम्मद नईम और इंदौर के शासकीय संगीत महाविद्यालय के प्राचार्य अरुण मोराने आदि मौजूद थे। बैठक में तय हुआ कि सभी संभाग मुख्यालयों पर यह प्रतियोगिताएं 20 सितंबर तक करवा ली जाएंगी। इंदौर संगीत महाविद्यालय की ओर से सभी संभाग मुख्यालयों के संगीत महाविद्यालयों को सुगम संगीत की प्रतियोगिताएं करवाने के लिए पत्र भी भेज दिए गए हैं।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close