इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Indore News। जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने रविवार को जल संसाधन विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, जल निगम और नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के स्थानीय अधिकारियों की बैठक रेसीडेंसी कोठी में ली। मंत्री ने जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री को निर्देश दिए कि इंदौर जिले के सभी तालाबों की वर्तमान स्थिति की रिपोर्ट प्रस्तुत करें। इन सभी तालाबों का गहरीकरण, सौंदर्यीकरण और जीर्णोद्धार करने की योजना बनाई जाए। जहां कहीं भी इन तालाबों में अतिक्रमण है, वह अतिक्रमण राजस्व विभाग के सहयोग से हटाने के लिए योजना बनाएं।

मंत्री सिलावट ने बैठक में सांवेर उद्वहन सिंचाई योजना की मौजूदा स्थिति की जानकारी भी ली। उन्होंने सांवेर विकासखंड के सभी ग्रामों में जल जीवन मिशन के तहत प्रस्तावित कार्यों की ताजा स्थिति की जानकारी भी ली। बैठक में बताया गया कि इंदौर ज़िले में जल संसाधन विभाग के अंतर्गत 58 तालाब हैं। सिलावट ने कार्यपालन यंत्री मुकेश चतुर्वेदी से कहा कि वे दल बनाकर प्रत्येक तालाब का सर्वे कराएं और रिपोर्ट प्रस्तुत करें। मंत्री ने जल जीवन मिशन के तहत सांवेर विकासखंड के हर गांव के हर घर में नल से जल्द पानी पहुंचाने के संबंध में योजना की समीक्षा भी की। बैठक में जल संसाधन विभाग के चीफ इंजीनियर अविनाश कुलकर्णी, अधीक्षण यंत्री पुरुषोत्तम जोशी, नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के मुख्य अभियंता एसके सिंघल और कार्यपालन यंत्री आरएस राणावत भी उपस्थित थे।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local