इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि, Ayurvedic Indore। कैंसर जैसी जटिल बीमारियों में आयुर्वेदिक दवाएं भी काफी कारगर है और फिलहाल इस पर रिसर्च किया जा रहा है। इस विषय पर चर्चा के लिए एक निजी आयुर्वेदिक कंपनी द्वारा बुधवार को कैंसर विषय पर एक वेबिनार का आयोजन किया गया। इसमें देश के प्रसिद्ध आयुर्वेद कैंसर विशेषज्ञों ने अपने विचार रखे।

गुजरात से डा. तपन वैद्य ने शहर में सातों धातु में होने वाले कैंसर के पैरामीटर के बारे में जानकारी दी और कैंसर में रसायन द्रव्यों के प्रयोग को प्रभावशाली बताया। इस वेबिनार में इंदौर के शासकीय आष्टांग आयुर्वेद कालेज के एसोसिएट प्रोफेसर डा.अखिलेश भार्गव ने बताया कि हमारे यहां कैंसर के मरीज लगातार आयुर्वेद दवाओं का फायदा ले रहे हैं। गाय के घी से बनी दवा का प्रयोग कैंसर के घाव को भरने में किया जा रहा है। पिछले कुछ वर्षो में कैंसर के मरीजों का रुझान आयुर्वेद की तरफ बढ़ा है क्योंकि इसमें साइड इफेक्ट का खतरा कम से कम होता है।

श्रीलंका की कैंसर विशेषज्ञ डा. केसी प्रियदर्शिनी ने कैंसर के कारण व लक्षणों के बारों में जानकारी दी। वेबिनार में डा. एसपी श्रीजीत व डा. हीरेन रावी ने अपने विचार रखे। वेबिनार में माडरेटर की भूमिका में डा. पवन शर्मा थे। इस वेबिनार में देश विदेश के डाक्टर एवं छात्रों ने भाग लिया। वेबिनार में आयुर्वेद कालेज में पढ़ने वाले छात्रों ने कैंसर व आयुर्वेद से जुड़े कई सवाल भी पूछे।

Posted By: gajendra.nagar

NaiDunia Local
NaiDunia Local