Indore Crime News: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। पुलिस ने उन बदमाशों का वीडियो वायरल किया है जो चौराहों पर खड़ी कारों से बैग और पर्स चुराते हैं। बदमाश एक्सीडेंट या टक्कर मारने का आरोप लगा कर कांच खुलवाते हैं और सामान गायब कर देते है। तीन वारदातें सामने आने के बाद अफसरों ने पूरे शहर की पुलिस को अलर्ट रहने के निर्देश दिए है। पुलिस को शक है बदमाश महाराष्ट्र या दक्षिण भारत से है।

चार दिन पूर्व एमआइजी थाना क्षेत्र स्थित एलआइजी लिंक रोड़ पर पलासिया निवासी कारोबारी अरुण दीक्षित की कार से दो बदमाशों ने मोबाइल और 20 हजार रुपये गायब कर दिए थे। मामले में पुलिस ने जांच की तो पता चला इसी गैंग ने खजराना थाना क्षेत्र स्थित रोबोट चौराहा पर भी एक कार सवार का मोबाइल चुराया है लेकिन उसकी तो एफआइआर भी नहीं हुई है। उसी दिन इस गैंग ने सदर बाजार थाना क्षेत्र स्थित मरीमाता चौराहा पर निजी कंपनी के कर्मचारी केतन की कार से फोन चुराया। तीन वारदातें होने के बाद पुलिस ने गैंग के सीसीटीवी फुटेज वायरल कर पूरे जिलें की पुलिस को अलर्ट किया है।

तरिका ए वारदात

गिरोह में दो बदमाश रहते है जो पहले यह देख लेते है कि कार में कौन अकेला बैठा है। जैसे ही कार ट्रेैफिक सिंग्नल पर रुकती है एक बदमाश चालक साइड का कांच ठोंकने लगता है। चालक पर टक्कर मारने का आरोप लगाता। तभी दूसरी तरफ से बदमाश आता है कांच ठोंकता है। गफलत में चालक कांच खोल देता है। आरोपितो बातों में उलझाते है और सीट पर रखा पर्स व मोबाइल लेकर फरार हो जाते है।

फरियादी ने खुद बताई चोरों की लोकेशन

पुलिस ज्यादातर मामलों को छुपा लेती है। सदर बाजार पुलिस ने भी यही किया। लेकिन डीसीपी जोन-1 अमित तोलानी ने केस दर्ज करवा दिया। फरियादी केतन से लिखित आवेदन लिया और रवाना कर दिया। जबकि केतन ने उसके चोरी फोन को आई वाच के माध्यम से ट्रैस किया तो अंतिम लोकेशन जेल रोड़ की मिली। पुलिस नको लोकेशन बताई लेकिन ध्यान नही दिया।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close