इंदौर। भय्यू महाराज आत्महत्या मामले के बाद उनकी बेटी कुहू अब खुलकर सामने आ गई है, उन्होंने कहा कि मुझे मेरे पिता की संपत्ति से हिस्सा मिलना चाहिए। पिता की विभिन्न शहरों में एक हजार करोड़ की संपत्ति है। मेरी मां की ज्वेलरी भी रख ली गई, लॉकर की चाबी भी रख ली गई। कुहू ने कहा कि मुझे घर छोड़कर होटल में रुकना पड़ रहा है। एक होटल में प्रेसवार्ता रखकर उन्होंने मीडिया के सामने अपनी बात रखी।

इसके पहले भय्यू महाराज की आत्महत्या मामले में शुक्रवार को महाराज की बेटी कुहू पक्षद्रोही हो गई। अभियोजन ने उसे पक्षद्रोही घोषित कर सवाल पूछे। उसने कोर्ट को बताया कि उसे किचन से जो मोबाइल मिला था उसमें आरोपित पलक और महाराज के बीच चैटिंग थी जो असामान्य थी। हालांकि इसका कोई स्क्रीन शॉट उसके पास नहीं है। शुक्रवार को ही महाराज की पत्नी आयुषी व बहन अनुराधा को भी बयान देने उपस्थित होना था, लेकिन दोनों नहीं आए। आयुषी को जारी वारंट बगैर तामीली के आ गया और अनुराधा ने आवेदन दिया कि वह बीमार है। यह पहला मौका नहीं है जब महाराज के स्वजन ही इस मामले में बयान देने से बच रहे हैं।

भय्यू महाराज ने 12 जून 2018 को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। पुलिस ने घटना के करीब 6 महीने बाद महाराज के तीन सेवादार विनायक दुधाले, शरद देशमुख और पलक पुराणिक को आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने के आरोप में गिरफ्तार किया। तीनों आरोपित तब से ही जेल में हैं। मामले में गुरुवार को महाराज की बेटी कुहू का प्रतिपरीक्षण अधूरा रह गया था, जो शुक्रवार को पूरा हुआ।

जानबूझकर नहीं आ रहीं आयुषी

शुक्रवार को आरोपितों की तरफ से एक आवेदन कोर्ट में प्रस्तुत हुआ। इसमें कहा है कि महाराज की पत्नी आयुषी जानबूझकर कोर्ट के समक्ष उपस्थित नहीं हो रही हैं। एक तरफ तो वे मामले की सुनवाई किसी दूसरी कोर्ट के समक्ष करने की मांग कर रही हैं, दूसरी तरफ खुद ही कोर्ट के समक्ष उपस्थित नहीं हो रहीं।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस