Bharat Jodo Yatra: इंदौर, महू। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का मध्य प्रदेश में आज पांचवां दिन है। रविवार सुबह यात्रा महू के दशहरा ग्राउंड मरकाम लेन से शुरू हुई और राऊ के बाद इंदौर पहुंच गई। इंदौर के पास राऊ में मामा का ढाबा पर राहुल गांधी रुके और सभी नेताओं के साथ चाय पी। इसके बाद वे आगे बढ़े तो एक समर्थक ने उन्हें अपनी बुलेट चलाने को कहा, जिस पर राहुल गांधी ने हेलमेट पहना और कुछ दूर तक उस पर सवारी की। इस दौरान उन्होंने एक डाग को वाक भी कराया। यहां शिव सिटी में रहने वाली मान्या राहुल से मिली और उन्हें टाफी दी, उन्होंने मान्या से पूछा आप क्या बनना चाहती हो। राजबाड़ा पर राहुल की नुक्‍कड़ सभा के लिए खासे इंतजाम किए गए । यहां भी बड़ी संख्‍या में लोग मौजूद रहे। राहुल गांधी ने सभा में केंद्र सरकार की नोटबंदी और जीएसटी की नीतियों की आलोचना की। उन्होंने कहा कि देश को जितना नुकसान चीन की सेना ने नहीं पहुंचाया, उतना इन नीतियों से हुआ है।

यहां उन्‍होंने अपने संबोधन में कार्यकर्ताओं के लिए बब्‍बर शेर और शेरनियांं शब्‍द का प्रयोग किया।राहुल ने यात्रा का अब तक का विवरण दिया और बताया कि अब तीन हजार सात सौ किमी का सफर पूरा कर लिया। उन्‍होंने कहा कि हम इस यात्रा पर अकेले नहीं हैं, हिंन्‍दुस्‍तान की पूरी जनता इस यात्रा में शामिल है। उन्‍होंने कहा कि इस शहर में आठ घंटे सफर किया और मुझे इंदौर में कचरा नहीं दिखाई दिया। इस सफर में कहीं मुझे नफरत नहीं मिली। इसमें सभी वर्गों के लोग शामिल हैं। यह यात्रा आपकी विचारधारा की यात्रा है। उन्‍होंने इस यात्रा को शुरू करने का मकसद बताया।

उन्‍होंने बताया कि हमें यह यात्रा क्‍यों शुरू करनी पड़ी। उन्‍होंने कहा कि जब भी संसद में उन्‍होंने अपनी आवाज उठाने की बात तो हमारा माइक आफ कर दिया गया। चाहे नोटबंदी हो या अन्‍य मुद्दा हमें बोलने न‍हीं दिया गया। वहां हमने कोशिश की पर विफल रहे, फ‍िर मैंने अपने मीडिया के मित्रों के सामने जनता के मुद्दे उठाने की बात कही। राहुल ने मीडिया को भी निशाने पर लिया और कहा कि जनता के मुद्दे दूर कर दिए जाते हैं और इसकी बजाय अन्‍य मुद्दों को तरजीह दी जाती है। उन्‍होंने स्‍वच्‍छ शहर इंदौर का जिक्र किया। राहुल ने नोटबंदी और जीएसटी को लेकर भी सरकार पर निशाना साधा और कहा कि युवाओं के रोजगार के अवसर खत्‍म कर दिए गए।

राहुल गांधी ने मूल्‍यवृद्ध‍ि सहित अन्‍य मुद्दों पर भी सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि वे चाहते हैं कि देश का सबसे बड़ा एयरपोर्ट इंदौर में बने। उन्‍होंने मध्‍य प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनने का भी जिक्र किया और इंदौर में मिले जनसमर्थन पर आभार भी जताया। सभा के दौरान पूर्व मुख्‍यमंत्री कमल नाथ, दिग्विजय सिंह, जेपी अग्रवाल, केसी वेणुगोपाल और जयराम रमेश आदि भी मौजूद रहे।

अपने खून से बनाई तस्वीर विदिशा से देने आया युवक

विदिशा के नवीन कोठारी ने अपने रक्त से भारत जोड़ो यात्रा को लेकर एक तस्वीर बनाई है। इसमें राहुल गांधी के साथ-साथ कमल नाथ, दिग्विजयसिंह का भी फोटो है। तस्वीर पर रंग केसरी वीरों का देश जोड़ने निकले रणधीरों का स्लोगन लिखा हुआ है। नवीन ने बताया कि वे विदिशा से तस्वीर राहुल गांधी को भेंट करने के लिए आए हैं, लेकिन अब तक उनसे मुलाकात नहीं हो सकी है। तस्वीर बनाने में उन्हें 20 दिन लगे और उसके लिए उन्होंने 11 बार रक्तदान किया।

इंदौर में होटल में नाश्‍ते के दौरान राहुल गांधी ने होटल मालिक के परिवार के साथ फोटो भी खिंचवाया।

यात्रा में कमल नाथ, दिग्विजय सिंह, जयराम रमेश, मीनाक्षी नटराजन आदि नेता हैं। आगे-पीछे मिलाकर करीब 300 मीटर तक भारी भीड़ साथ चल रही थी । इंदौर प्रवेश पर राहुल गांधी के स्‍वागत का दौर चला। अनेक स्‍थानों पर स्‍वागत मंच बनाए गए । बोहरा समाज की महिलाएं और स‍िख समाजजन स्‍वागत के मंच पर मौजूद रहे। यात्रा का सैफी नगर पहुंचने पर भी स्‍वागत किया गया।लोग मंच से फूल वर्षा कर रहे थे और काफिले के साथ भीड़ भी दौड़ रही थी।

राहुल गांधी ने सैफी नगर चौराहे पर कुछ पल रुककर और हाथ उठाकर लोगों और मल्टी में बैठे लोगों का अभिवादन किया। यात्रा में जयवर्द्धन सिंह पैदल चल रहे थे जबकि कमलनाथ कार में थे।गुलजार कॉलोनी चौराहे पर धक्का-मुक्की हुई। यहीं राहुल गांधी एक होटल पर नाश्‍ते के लिए रुके। इसके बाद यात्रा फ‍िर आरंभ हो गई।होटल में राहुल गांधी ने सिर्फ चाय और बिस्किट ही खाये।

विश्राम के बाद यात्रा फ‍िर आरंभ हो गई।राहुल गांधी की यात्रा के लिए इंदौर के सैफ़ी नगर चौराहे और माणिकबाग ब्रिज के पास काफी तादात में कांग्रेसी कार्यकर्ता जमा रहे।राहुल गांधी का काफिला चाणक्‍यपुरी चौराहा पहुंच गया।चाणक्यपुरी चौराहे पर बच्चों ने मंच से किया राहुल गांधी का स्वागत। विभिन्‍न समाजों के लोग स्‍वागत के लिए बड़ी संख्‍या में जमा हुए । केशरबाग पुल पर पहुंचने के दौरान रास्‍ते में बड़ी संख्‍या में लोग राहुल की एक झलक पाने के लिए आतुर रहे।राहुल गांधी की यात्रा केसरबाग ब्रिज से उतरी। विधायक जीतू पटवारी और विधायक कांतिलाल भूरिया भी पहुंचे। इस यात्रा मार्ग पर बेरोजगार मप्र के झंडे लिए युवा खड़े रहे।

इंद्रपुरी कॉलोनी में रहने वाली सुरभि अग्रवाल अपनी ढाई साल की बिटिया कियाना को लेकर राहुल गांधी की यात्रा में शामिल होने चोइथराम रोड पर आई।

इस यात्रा में आप पार्टी के फाउंडर मेंबर रहे और वर्तमान में स्वराज इंडिया के नेता योगेंद्र यादव भी आए हैं। 70 लोग साथ में हैं।

राहुल गांधी की यात्रा के दौरान कांग्रेस के बैनर पोस्टर सड़कों से नहीं हटाए जाएंगे

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बताया कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के लिए इंदौर में लगाए जा रहे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के बैनर और पोस्टर हटाने के संबंध में हमारी महापौर पुष्यमित्र भार्गव और निगम कमिश्नर प्रतिभा पाल से चर्चा हुई है। हमने उन्हें बताया कि जब मैं मुख्यमंत्री था तो भाजपा के कैलाश विजयवर्गीय महापौर थे। हमने उन्हें पूरा सहयोग किया। चर्चा के बाद महापौर ने कहा कि अब बैनर पोस्टर नहीं हटाए जाएंगे। दिग्विजय सिंह ने सहयोग के लिए महापौर और निगम कमिश्नर का आभार जताया। उल्लेखनीय है कि रविवार को राहुल गांधी की यात्रा ने इंदौर में प्रवेश किया है। यात्रा मार्ग पर इससे पहले नगर निगम द्वारा कांग्रेस नेताओं के बैनर पोस्टर हटाने की कार्रवाई की गई थी।

राऊ में यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने एक डाग को वाक भी कराया।

गुजरात में मुकाबला भाजपा-कांग्रेस के बीच, तीसरी पार्टी जमीन पर नहीं

राऊ में कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला, जीतू पटवारी और विशाल पटेल के साथ प्रेस वार्ता ली। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग घबरा रहे हैं, होर्डिंग निकाल रहे हैं, सजावट निकाल रहे हैं। 500 करोड़ खर्च करने के सवाल पर कोई जवाब नहीं देंगे। राहुल गांधी मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे, गिरिजाघर गये, यह संस्कृति का अंग है। वे अलग-अलग धर्मों के नुमाइंदों से मिल रहे हैं। कांग्रेस नेताओं के गुजरात छोड़ने वाले सवाल पर उन्होंने उन नेताओं के नाम गिनाए जो अभी गुजरात में चुनाव प्रचार कर रहे है। जयराम रमेश ने कहा कि गुजरात में दो पार्टियों कांग्रेस और भाजपा के बीच मुकाबला है। तीसरी पार्टी जमीनी स्तर पर वहां नहीं है।

राजस्थान में नेतृत्व परिवर्तन पर कही यह बात

राजस्थान में हुए घटनाक्रम पर जयराम रमेश ने कहा कि अशोक गहलोत वरिष्ठ नेता है और सचिन पायलट ऊर्जावान हैं। कुछ मतभेद हैं, इस दौरान कुछ बयान अप्रत्याशित थे, व्यक्ति का कोई महत्व नहीं है, आते-जाते हैं। उन्होंने यह बात राजस्थान में नेतृत्व बदलने के सवाल पर कही। वहीं चुना जाएगा जो कांग्रेस संगठन को मजबूत करेगा। जरूरत पड़ी तो कठोर निर्णय भी लिए जाएंगे।

सुबह यात्रा की शुरुआत में महू में ग्राउंड के बाहर एनसीसी बैंड ने स्वागत किया। राहुल गांधी करीब 5 मिनट तक दिव्यांग मनोहर भिलाला के साथ चलते रहे, इस दौरान उन्होंने मनोहर भिलाला का हाल पूछा। यात्रा में मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ सहित कई कांग्रेस नेता शामिल हैं। यात्रा मार्ग पर राहुल गांधी को देखने के लिए दोनों ओर ग्रामीणों की भीड़ लगी रही।

भारत जोड़ो यात्रा इंदौर के राजवाड़ा पहुंची। इसके बाद यात्रा इंदौर में ही रात्रि विश्राम करेगी।

इंदौर में राजेंद्र नगर ब्रिज के नीचे भारत जोड़ो यात्रा को लेकर बड़ी रंगोली बनाई गई।

LIVE: #BharatJodoYatra resumes from Mhow, Madhya Pradesh.https://t.co/6p5aUgn56v

— MP Congress (@INCMP) November 27, 2022

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close