इंदौर। देवी अहिल्याबाई होलकर अंतरराष्ट्रीय विमानतल से शुक्रवार से नियमित कार्गो फ्लाइट सेवा शुरू हो गई। निजी एयरलाइंस स्पाइस जेट 25 अक्टूबर तक के लिए परीक्षण के आधार पर यह सेवा शुरू की है। कार्गो फ्लाइट हर दिन इंदौर से 20 टन माल ले जाएगी। विमानतल निदेशक अर्यमा सान्याल के अनुसार निजी एयरलाइंस स्पाइस जेट शुक्रवार से यह सेवा शुरू की है। अगर उसे समुचित प्रतिसाद मिलेगा तो वह 25 अक्टूबर के बाद भी यह सेवा जारी रख सकती है। कंपनी इस सेवा के लिए बोइंग 737 विमान का उपयोग कर रही है। इसकी क्षमता करीब 20 टन है। विमानतल प्रबंधन के अनुसार घरेलू कार्गो परिवहन के मामले में इंदौर की गिनती देश के अग्रणी विमानतल में होती है। यहां से बड़ी संख्या में दवाई, मशीनरी, कपड़े का आयात-निर्यात होता है। कई विदेश भेजे जाने वाले माल को दिल्ली या मुंबई भेजा जाता है। वहां से इसे संबधित देश में भेजा जाता है।

स्पाइस जेट को इंदौर से विशेष डिलेवरी के लिए मिला आदेश

स्पाइस जेट के सूत्रों ने बताया कि कंपनी को इंदौर से विशेष डिलेवरी के लिए आदेश मिला है। इसलिए कंपनी यह सेवा शुरू करने जा रही है। यह सुविधा 25 अक्टूबर तक रहेगी। इसके बाद भी यदि कंपनी को जरूरी लगा तो वह सेवा जारी रखेगी।

नोटबंदी के वक्त आया था कार्गो

इससे पहले नोटबंदी के समय देवास बैंक नोट प्रेस में छपे नोटों को लेने के लिए भारतीय वायुसेना का एएल 76 कार्गो विमान इंदौर विमानतल पर आया था। इस साल के प्रारंभ में एक निजी कंपनी शारजाह के लिए सीधी कार्गो फ्लाइट शुरू करने वाली थी लेकिन बाद में कंपनी ने अपनी योजना को निरस्त कर दिया था।

जेट के बंद होने से पड़ा असर

सूत्रों के अनुसार इंदौर विमानतल से काफी पहले से कार्गो सेवा दी जाती रही है, लेकिन इसे यात्री विमानों में ही भेजा जाता था। इंदौर से सबसे अधिक माल जेट एयरवेज के माध्यम से ही जाता था। सबसे अधिक विमान भी उसके ही चलते थे। लेकिन उसके बंद होने के बाद दूसरी फ्लाइट में कार्गो जाता है।

25 अक्टूबर तक का विस्तृत शेडयूल

- कार्गो विमान सुबह 5 बजे दिल्ली से उड़ान भरकर साढ़े 6 बजे इंदौर विमानतल पर आएगा।

- इंदौर से सुबह साढ़े 7 बजे उड़ान भरकर 8 बजकर 40 मिनट पर अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचेगा।

- अहमदाबाद से विमान पुणे और बैंगलुरु होते हुए रात तक वापस दिल्ली पहुंच जाएगा।