इंदौर/भोपाल (नईदुनिया प्रतिनिधि)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर से छेड़खानी कर सोशल मीडिया पर वायरल करने के मामले में पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी के खिलाफ रविवार को प्रकरण दर्ज कर लिया गया। मामले की शिकायत भाजपा के इंदौर नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे ने इंदौर के छत्रीपुरा थाना पुलिस में की थी। उधर, प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने पटवारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई संबंधी मांग और मामले की शिकायत प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा को भेज दी है।

भाजपा नेता शैलेंद्र शर्मा ने प्रोटेम स्पीकर शर्मा को ट्वीट कर मांग की थी कि उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। शर्मा ने पटवारी को आदतन साइबर अपराधी घोषित करने की मांग भी की है। भाजपा के इंदौर नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे की ओर से दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार, पटवारी ने राम मंदिर भूमिपूजन में शामिल प्रधानमंत्री के फोटो में बदलाव कर उसे अमर्यादित टिप्पणी के साथ अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया था। यह हिंदुओं की भावनाओं से खिलवाड़ और आइटी एक्ट का उल्लंघन है। फोटो वायरल होने के बाद से नाराज भाजपा नेता शनिवार रात इंदौर में डीआइजी हरिनारायणाचारी मिश्रा से शिकायत करने पहुंचे थे। मामला गरमाता देख पटवारी ने रात को ही पोस्ट हटा ली थी।

एक नहीं, सौ एफआइआर करा दें : पटवारी

पटवारी ने भाजपा पर पलटवार करते हुए कहा कि एक नहीं, सौ एफआइआर करवा दें। मैंने बढ़ती बेरोजगारी, कम होते आर्थिक विकास, किसानों की दोगुनी आय के वादों संबंधी सवालों के जवाब मांगे हैं। पूर्व मंत्री सज्जान सिंह वर्मा ने अधिकारियों को चेतावनी दी कि वे कानून की लक्ष्मण रेखा नहीं लांघे, वक्त पलटते देर नहीं लगती। मामले में कांग्रेस नेता सोमवार को डीआइजी से मुलाकात करेंगे। साथ ही रात्रिकालीन कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर भाजपा नेताओं के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने की मांग रखेंगे।

पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि भाजपा बदले, दबाव, दुर्भावना की राजनीति और द्वेष भावना से काम कर रही है। हमारी सरकार ने कभी ऐसी कार्रवाई नहीं की। अगर हम भाजपा की राह पर चले होते तो कई भाजपा नेताओं पर प्रकरण दर्ज हो चुके होते। कांग्रेस नेताओं, जनप्रतिनिधियों व कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया जा रहा है। सोशल मीडिया पर धमकाया जा रहा है।

राज्यसभा सदस्य विवेक तन्खा ने कहा है कि देश में कानून के दोहरे मापदंड हैं। उन्होंने एक न्यूज चैनल का नाम लेकर कहा कि वे राहुल या सोनिया गांधी पर व्यंग्य करें तो जायज और जीतू पटवारी व्यंग्य करें तो अपराध। यह रूल ऑफ लॉ नहीं है। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि पटवारी पर एफआइआर अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता छीनने की कोशिश है। भाजपा हर विरोध की आवाज को दबा देना चाहती है।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020