इंदौर। नईदुनिया प्रतिनिधि

रेलवे प्लेटफॉर्म नंबर-1 पर लगी लिफ्ट में बुधवार को चार यात्री फंस गए। उन्होंने हंगामा शुरू किया तो मौके पर आरपीएफ व रेलवे के अधिकारी पहुंचे। इसके बाद इलेक्ट्रीशियन को बुलाया और लिफ्ट में सुधार के बाद यात्रियों को बाहर निकाला गया। इन यात्रियों को अवंतिका एक्सप्रेस से जाना था, जिससे ट्रेन को भी 10 मिनट रोकना पड़ा।

अवंतिका एक्सप्रेस से जाने वाले यात्री शाम 3ः50 बजे प्लेटफॉर्म नंबर- 1 पर फंस गए। ट्रेन 4ः15 बजे रवाना होनी थी। यात्री लिफ्ट में 30 मिनट तक फंसे रहे। अधिकारियों ने कंपनी के इलेक्ट्रीशियन को बुलाकर लिफ्ट सही कराई। यात्रियों को 4ः20 बजे निकाला, इस कारण ट्रेन को सूचना देकर 10 मिनट रोका। इस हड़बड़ाहट में यात्रियों के नाम पता नहीं चल सके। एक यात्री की सीट एस-6 में है। वहीं रेलवे प्रवक्ता जेके जयंत ने बताया कि सभी यात्री सुरक्षित हैं और उन्हें ट्रेन में बैठा दिया गया है।

बार-बार खराब हो रही लिफ्ट

लिफ्ट पहले भी कई बार खराब हो चुकी है। स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर-1 पर एक, 2 और 3 पर एक और एक लिफ्ट 4 नंबर पर लगी हुई है। वहीं आईलैंड प्लेटफॉर्म पर दो लिफ्ट लगाई गई है। चार महीने पहले प्लेटफॉर्म नंबर-5 की लिफ्ट में कुछ यात्री फंस गए थे। इसमें कुछ वृद्ध भी थे, रेलवे को सूचना देने के बाद इन्हें मुश्किल से बाहर निकाला था। कंपनी की शिकायत भी मंडल अधिकारियों को की थी। इस दौरान उन्होंने कंपनी पर कार्रवाई करने की बात कही थी, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। वहीं रात में भी कई बार लिफ्ट खराब होने की सूचना मिल चुकी है।

Posted By: Nai Dunia News Network