इंदौर। फिल्म 'छपाक को मध्य प्रदेश में टैक्स फ्री किए जाने के बावजूद शुक्रवार को कई दर्शकों को इसका लाभ नहीं मिला। शो की 70 फीसदी बुकिंग ऑनलाइन हुई थी। इन दर्शकों को किसी तरह की छूट नहीं मिल पाई। 30 फीसदी दर्शक, जिन्होंने काउंटर से टिकट खरीदकर फिल्म देखी, उनमें से कुछ जगह पर इसका फायदा मिला।

फिल्म देखने पहुंचे अधिकांश दर्शकों को इस बात की जानकारी नहीं थी कि यह टैक्स फ्री कर दी गई है।

इंदौर के प्लास्टिक व्यवसायी आयुष बघेरवाल का कहना है कि इसे प्रदेश की सभी छात्राओं के लिए मुफ्त कर दिया जाना चाहिए। निजी क्लब में मैनेजर रोहित यादव का कहना है कि केंद्र को भी फिल्म टैक्स फ्री करनी चाहिए थी। ऑनलाइन बुकिंग करवाने वाले दर्शकों में से एक ने बताया कि जब सुबह वे फिल्म देख रहे थे तो अचानक मैसेज आया शो निरस्त हो गया है, पैसा आपके खाते में पहुंच जाएगा, जबकि फिल्म पूरी दिखाई गई।

गौरतलब है कि जेएनयू के विवाद के बीच दीपिका पादुकोण की फिल्म 'छपाक' मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और पांडिचेरी में टैक्स फ्री कर दिया गया है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट करते हुए लिखा, "दीपिका पादुकोण अभिनीत एसिड अटैक सर्वाइवर पर बनी फ़िल्म छपाक जो 10 जनवरी को देश भर के सिनेमाघरों में रिलीज़ हो रही है उसे मध्यप्रदेश में टैक्स फ्री करने की घोषणा करता हूं."

गुरुवार को जो टिकट के दाम थे, उसमें नौ प्रतिशत की कमी सभी सिनेमा संचालकों ने की है। दर्शकों को मल्टीप्लेक्स के टिकटों में भी 10-15 रुपए तक का लाभ मिला है। ऑनलाइन एडवांस बुकिंग पर पैसा वापसी की कोशिश हो रही है। - बसंत लड्ढा, डायरेक्टर, सिने सर्किट एसोसिएशन

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस