Indore Crime News: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। चोइथराम मंडी में लोडिंग वाहन से सब्जियां लेकर निकले तीन लोगों से कर्मचारियों ने मंड़ी शुल्क की पर्ची मांगी। इसके बाद लोडिंग में सवार लोगों ने विवाद शुरू कर दिया।विवाद बढ़ने पर अन्य लोगों को फोन लगाकर बाहर से बुलाया गया। बाहर से आए लोगों ने आते ही मंड़ी कमर्चारियों और चौकीदारों के साथ मारपीट शुरू कर दी। मंडी कर्मचारी कुछ समझ पाते इससे पहले पचास के करीब लोग जमा हो गए। हमले में मंड़ी के पांच कर्मचारी घायल हुए है। मंडी प्रबंधन की शिकायत पर मारपीट और शासकीय कार्य में बाधा का केस दर्ज किया गया।

मंडी गेट पर मौजूद कर्मचारियों द्वारा लोडिंग चालक से मंडी शुल्क की पर्ची को लेकर विवाद हो गया। कहासुनी बढ़ने पर फोन कर बाहर से कई लोगों को बुला लिया गया। बाहर से आए लाेगों ने आते ही लाठियों से मारपीट शुरू कर दी। मंडी सचिव नरेश परमार ने बताया कि लोडिंग सवार लोगों ने मंड़ी की पर्ची मांगने पर कहा कि हम नाना पटवारी के आदमी है। बिना पर्ची के वाहन बाहर जाएगा। इसके बाद उन्होंने बाहर से फोन कर कुछ लोगों को बुला लिया। जो लाठियां लेकर पहुंचे और आते ही मारपीट शुरू कर दी। इसमें अंतरसिंह सिसोदिया का दांत तोड़ दिया गया, अजय चौधरी, सुरक्षाकर्मी कमल सिंह, रामलाल मिश्रा सहित पांच लोग घायल हुए है। मंडी सचिव का कहना है कि पहले भी रात्रि में असमाजिक तत्वों के द्वारा रात्रि में बिना मंड़ी शुल्क चुकाए वाहन निकालने का प्रयास किया गया है।

राजेंद्र नगर थाने में दर्ज हुआ केस

अंतरसिंह सिसोदिया की शिकायत पर राजेंद्र नगर थाने में मारपीट और शासकीय कार्य में बाधा का केस दर्ज किया गया। आरोपित पवन चौहान, चिंटू, कपिल के खिलाफ केस दर्ज किया। अंतरसिंह ने पुलिस को बताया कि उसकी गेट-2 पर ड्यूटी थी। लोडिंग वाहन (एमपी 09एलएन 6332) का चालक मंडी शुल्क चुकाए बगैर टमाटर ले जा रहा था। रसीद मांगने पर उसने विवाद किया। उसने मारपीट कर घायल कर दिया। चिंटू और कपिल को भी बुला लिया।बीच-बचाव करने आए गार्ड कमल से 12 बोर की बंदूक छीन कर तोड़ दी। दूसरी तरफ से पुलिस ने फरियादी पवन पुत्र महेश चौहान निवासी नंदलालपुरा की तरफ से गार्ड अंतरसिंह, कमल और मुरालीलाल के खिलाफ अदमचेक की कार्रवाई की है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close