इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना वायरस को लेकर बढ़ी सतर्कता के बीच रविवार को अचानक स्क्रीनिंग संबंधी सूचनाओं की संख्या बढ़ गई। स्वास्थ्य विभाग के साथ पुलिस को भी लोगों ने फोन कर बाहर से आने वालों की सूचना भेजना शुरू कर दिया। स्वास्थ्य विभाग ने अपनी 22 टीम के सदस्यों को इसकी जानकारी के लिए पहुंचाया। विभाग के कर्मचारियों की कम संख्या को देखते हुए अब प्राइवेट अस्पतालों के डॉक्टर व स्टाफ को भी इस काम के लिए बुलाया जाएगा। इधर, रविवार को विदेश या देश के विभिन्न शहरों से लौटे 40 से अधिक लोगों की स्वास्थ्य विभाग ने स्क्रीनिंग की। शनिवार को आठ मरीजों के सैंपल जांच के लिए एमजीएम मेडिकल कॉलेज भेजे गए जिनकी रिपोर्ट आना बाकी है। इन मरीजों में से छह संदिग्ध मरीज हुकमचंद अस्पताल, एक संदिग्ध को एमआरटीबी अस्पताल और एक अन्य संदिग्ध मरीज को प्राइवेट अस्पताल में आइसोलेट किया गया है। इधर, लोगों के जागरूक होने के कारण वे अपने यहां बाहर से आने वाले हर व्यक्ति की सूचना दे रहे हैं, ताकि बिना स्क्रीनिंग कराए खुद व दूसरों के लिए खतरा न बन जाए। लोग सजग होने के साथ कोरोना वायरस को लेकर डरे हुए भी हैं।

इस तरह से बनाई गई है व्यवस्था

विभाग ने अलग-अलग अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाए हैं। विभाग ने विदेश से लौटे यात्रियों को आइसोलेशन व क्वारंटाइन सेंटर में रखने की व्यवस्था की है। किसी में सर्दी-खांसी या बुखार के लक्षण दिखते हैं तो उसे हुकमचंद अस्पताल में भर्ती रखने की व्यवस्था है। एमआरटीबी व एमवाय अस्पताल में केवल पॉजिटिव मरीजों को ही रखने की व्यवस्था है।

क्वारंटाइन सेंटर से घर गए यात्री

शनिवार देर रात धार रोड स्थित क्वारंटाइन सेंटर में लाए गए 86 यात्रियों को घर भेजा गया। विभाग के अधिकारियों के अनुसार ये सभी विदेश से लौटे थे। इनमें दूसरे शहर से आए कुछ लोग भी थे। इन यात्रियों में किसी भी तरह के लक्षण नहीं दिखाई दिए। सूत्रों के मुताबिक विभाग चाह रहा था कि इन मरीजों को दो से तीन दिन और भर्ती रखा जाए, लेकिन कुछ यात्रियों को और बेहतर सुविधाओं की जरूरत थी। इस कारण वे हंगामा कर रहे थे। यात्री अधिक दिनों तक क्वारंटाइन सेंटर में नहीं रहना चाहते थे। अस्पताल कर्मचारियों ने सभी के फॉर्म भरवाकर घर में ही आइसोलेट रहने व किसी तरह के लक्षण दिखने पर सूचना देने को कहा है।

मरीजों के लिए इस तरह होगी बिस्तरों की व्यवस्था

एमवाय अस्पताल : 6

पीसी सेठी : 6

महू आर्मी अस्पताल : 5

एमआरटीबी : 28

एमआरटीबी आईसीयू : 24

एमआरटीबी वार्ड : 44

ट्रेनिंग सेंटर : 60

प्राइवेट अस्पताल : 130

ये रखें सावधानी

- भीड़ वाले इलाकों या मॉल आदि में जाने से बचें।

- खांसते या छींकते समय मुंह पर कपड़ा रखें।

- घर में आसपास किसी को बुखार हो तो डॉक्टर को दिखाएं।

- गर्म पेय पदार्थों का उपयोग करें।

- जिन्हें खांसी हो, वे खुले में न छींकें।

- बाहर से आने के बाद या खाना खाते समय हाथ जरूर धोएं।

- विदेश यात्रा से बचें व विदेश से लौटने पर स्वास्थ्य विभाग को जानकारी दें।

योग केंद्र में मिले सात विदेशी, सभी की कराई जांच

खंडवा रोड स्थित परमानंद योग केंद्र में सात विदेशी नागरिकों के मिलने की सूचना विभाग को मिली। इसके बाद रेपिड रिस्पॉन्स टीम के सदस्य वहां पहुंचे। उनकी जांच के साथ ही यात्रा संबंधी जानकारी भी मांगी गई। हालांकि किसी में भी बीमारी के लक्षण नहीं मिले हैं। सरकार के आदेश के बाद भी योग केंद्र का संचालन किए जाने की जानकारी प्रशासन जुटा रहा है। आदेश का उल्लंघन होने पर कार्रवाई तक हो सकती है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना